Live 7 TV
सनसनी नहीं, सटीक खबर

भारी बारिश से ,नदिया तालाब उफनाई,सारंडा ने घने कोहरे की ओढ़ ली चादर, तापमान में गिरावट

- Sponsored -

चाईबासा: एशिया का प्रसिद्ध और 700 पहाड़ों से घिरा का सारंडा और झारखंड का कश्मीर कहा जाने वाले किरीबुरु-मेघाहातुबुरु समेत सारंडा के विभिन्न क्षेत्रों में बीती रात से निरंतर जारी भारी वर्षा व घने कोहरे की वजह से जन-जीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। वर्षा के दौरान चल रही ठंडी हवाओं की वजह से तापमान में भारी गिरावट देखी जा रही है। न्यूनतम तापमान जहां 20 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, अधिकतम तापमान भी 23 डिग्री दर्ज किया गया है. मेघाहातुबुरु स्थित मीना बाजार शेड के नीचे दोपहर में भी कुछ लोग ठंड से राहत हेतु अलाव जलाकर आग तापते नजर आये. वर्षा की वजह से शनिवार को मेघाहातुबुरु में लगने वाले सप्ताहिक हाट-बाजार में भी दुकानें काफी कम लगी, जिससे सब्जियों की कीमत में वृद्धि देखी गई। बाजार में ग्राहकों की उपस्थिति भी काफी कम रही।वर्षा के दौरान शहर में घना कोहरे छाया रहा, इसकी वजह से लोग वाहनों की लाईट जलाकर चलने को मजबूर रहे. दूसरी ओर, विभिन्न स्थानों पर जल जमाव की वजह से मच्छरों का प्रकोप बढ़ने का खतरा बना हुआ है। मौसम में आए अचानक बदलाव से पूरे जिले में भारी बारिश हो रही है और ठंडी ठंडी हवाएं चल रहे हैं पूरा इलाका घना कोहरा में ढक गया है। बीती रात्रि से लेकर लगातार हो रही बारिश से जनजीवन प्रभावित हुआ है सर के वीरान परी हैं। अन्य दिनो की तरह हाट बाजार और दुकानें कम खुले लोग अपने अपने घरों में ही दुबके रहे ।अत्यधिक जरूरत होने पर ही लोग घरों से बाहर निकले, छाता और बरसाती पहनकर लोग अपने दिनचर्या के कामकाज को निपटाते रहे। वही विगत 10-15 दिनों से भीषण गर्मी और तेज धूप उमस झेल रहे लोगों को भारी बारिश से राहत महसूस हुई। तापमान में काफी गिरावट आई है। भारी बारिश से सभी नदियां तालाब खेत खलिहान आदि में पानी भर गया है। सभी नदिया तलाब ,जलाशय उफना गई हैं, निचले इलाकों में पानी भर गया है।

Looks like you have blocked notifications!

- Sponsored -

Leave a Reply