Live 7 TV
सनसनी नहीं, सटीक खबर

अपनी समस्याओ का हम मिल बैठकर निकालेंगे निदान: रंजन

- Sponsored -

रामप्रसाद सिन्हा
पाकुड़: पचुवाड़ा नाॅर्थ कोल ब्लाॅक से विस्थापित एवं प्रभावित ग्रामीणो की समस्याओ के निदान के मामले में कोयला उत्खनन और परिवहन करने वाली कंपनी की कुछ त्रुटिया है जिसे समय रहते दुर करने की जरूरत है। कोल ब्लाॅक से प्रभावित और विस्थापितो की समस्याओ का निदान कोई बाहरी तत्व नही निकाल सकता। हम सभी प्रभावित गांवो के ग्रामीण अपनी समस्याओ का हल मिल बैठकर निकालेंगे। उक्त बातें प्रशासन और कोल परियोजना के साथ ग्रामीणो की बैठक के दौरान रंजन मरांडी ने कही। ग्रामीणो का प्रतिनिधित्व कर रहे रंजन मरांडी ने कहा कि झारखंड मानवाधिकार जनजागृति कल्याण परिषद के लोग हम ग्रामीणो के आपसी संबंध और भाईचारा के साथ एकता को तोड़ने की साजिश कर रहे है जिसका पुरजोर विरोध किया गया है और आगे भी किया जायेगा। उन्होने कहा कि कुछ बाहरी तत्व अपना स्वार्थ साधने के लिए भोले भाले ग्रामीणो को भड़काने का काम कर रहे है जिसे हम सफल नही होने देंगे। उन्होने बताया कि बैठक में मौजूद अधिकारियो से ग्रामीणो द्वारा रखी गयी पेयजल, स्वास्थ आदि समस्याओ का निदान समय सीमा के अंदर निदान हो। श्री मरांडी ने कहा कि बैठक में मौजूद जिला प्रशासन के प्रतिनिधियो से एक महिने के अंदर विशनपुर गांव के ग्राम प्रधान की बहाली की मांग की गयी है। उन्होने कहा कि कोयला उत्खनन क्षेत्र की शांति व्यवस्था को हम बिगड़ने नही देंगे। उन्होने मौजूद ग्रामीणो से भी बाहरी तत्वों के बहकावे में न आने एवं किसी तरह की समस्याा उत्पन्न होने पर आपस में मिल बैठकर उसका निदान निकालने के लिए कोल कंपनी के समक्ष बातों को रखने की भी अपील की गयी है। श्री मरांडी ने कहा कि बाहरी तत्वों की वजह से हमारा गांव और गांव के लोगो की छवि हाल के दिनों में खराब हुई लेकिन आगे ऐसा होने नही दिया जायेगा।

- Sponsored -

Looks like you have blocked notifications!

- Sponsored -

- Sponsored -

Comments are closed.