Live 7 TV
सनसनी नहीं, सटीक खबर

भारतीय गेंदबाजों की निरंतरता से हम भी थोड़े आश्चर्यचकित रह गए : एलिसा हीली

- Sponsored -

गोल्ड कोस्ट: जब मेघना सिंह ने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में अपनी पहली गेंद पर पहले वनडे में एलिसा हीली को एक शानदार आउटंिस्वगर से बीट किया था तो ऐसा लगा जून में इंग्लैंड में सीरीज हारने के बाद भारतीय टीम में अगले साल के विश्व कप से पहले तेज गेंदबाजों की खोज की एक कड़ी मिल गई है। झूलन गोस्वामी भी चिर परिचित अंदाज में बल्लेबाजों को परेशान करती नजर आईं और पूजा वस्त्रकर की गेंदबाजी में भी एक नई धार दिखाई दी। तीसरे वनडे की समाप्ति तक ऐसा लगा कि भारतीय तेज गेंदबाजी में कुछ बात जरूर है।
मल्टी फÞॉर्मैट सीरीज में ंिपक बॉल टेस्ट के आते-आते यह हाल है कि मूलतया स्पिन पर निर्भर भारतीय गेंदबाजी ना सिफर्Þ अब तेज गेंदबाजों के आधार पर चुनौती पेश कर रही है बल्कि सच में उन्होंने आॅस्ट्रेलिया की गेंदबाजों को भी कुछ मामलों में पीछे छोड़ दिया है।
तीसरे दिन के खेल के बाद हीली ने कहा, “आज भारत के तेज गेंदबाजों ने वह कर दिखाया जो हम अपनी गेंदबाजी के वक्Þत शुरुआत में नहीं कर पाए थे। हमने टॉस जीतकर गेंदबाजी का फÞैसला किया और शायद हमारे गेंदबाजों में अनुभव की कमी साफÞ नजर आई। हालांकि मौसम के चलते हम पहले दोनों दिन लाइट के रहते गेंदबाजी करने का फÞायदा भी नहीं उठा पाए।” इस शाम के समय में भारतीय गेंदबाजी का सितारा रहीं झूलन। मेजबान की पारी के सातवें ओवर में उन्होंने एक तेज इनंिस्वगर के जरिए सलामी बल्लेबाज बेथ मूनी के स्टंप बिखेरे और फिर हीली के साथ एक रोचक प्रतिस्पर्धा का सार तीन गेंदों में दिखा।
सबसे पहले एक अंदर आती गेंद से हीली के बल्ले और पैड के बीच का रास्ता लेते हुए उन्हें बीट किया। अगली गेंद पर एक बाउंसर को पुल करने के चक्कर में हीली के कंधे पर प्रहार किया। और आख़रि में एक आउटंिस्वगर से उन्हें पवेलियन भेजा।

 

Looks like you have blocked notifications!

- Sponsored -

- Sponsored -

Comments are closed.