Live 7 TV
सनसनी नहीं, सटीक खबर

मॉडल रूल के प्रावधानों का उल्लंघन स्वीकार्य नहीं: राजेश पांडेय

- Sponsored -

  • राज्य विधिज्ञ परिषद ने सचिव के नाम पत्र प्रेषित कर चुनाव की प्रक्रिया पर लगायी रोक 
कयूम खान
लोहरदगाः झारखंड राज्य विधिज्ञ परिषद रांची के मानद महासचिव राजेश पांडे ने लोहरदगा जिला अधिवक्ता संघ के चुनाव समिति के नाम पत्र प्रेषित करते हुए अधिवक्ता संघ के चुनाव प्रक्रिया को अभिलंब रोक लगाने का निर्देश जारी किया है। श्री पांडे ने अपने पत्र में लिखा है कि राज्य विधिज्ञ परिषद को ऐसी सूचना प्राप्त हुई है कि अधिवक्ता संघ के चुनाव के लिए मुख्य चुनाव पदाधिकारी सतीश कुमार विद्यार्थी द्वारा मतदाता सूची का अंतिम रूप से प्रकाशन किया गया। साथ ही मतदाता सूची के प्रकाशन से पूर्व विधिज्ञ परिषद द्वारा जारी निर्देश एवं संघ के लिए निर्धारित मॉडल रूल का अनुपालन नहीं किया गया है। चुनाव पदाधिकारी के द्वारा चुनाव की तिथि का प्रकाशन विधिज्ञ परिषद द्वारा नियुक्त चुनाव पर्यवेक्षकों की सहमति के बिना किया गया, जबकि मॉडल रूल में स्पष्ट वर्णित है कि चुनाव की तिथि की घोषणा संबंधित चुनाव पर्यवेक्षक की सहमति के बाद ही की जा सकेगी। विधिज्ञ परिषद को यह भी सूचना प्राप्त हुई है कि मतदाता सूची के अंतिम रूप से प्रकाशित किए जाने के साथ चुनाव की तिथियों की घोषणा की गई है। यदि ऐसा हुआ है तो यह किसी भी रूप से स्वीकार्य नहीं है और मॉडल रूल के प्रावधानों का उल्लंघन है। श्री पांडे ने उक्त पत्र के माध्यम से राज्य विधिज्ञ परिषद के निर्देशानुसार जिला अधिवक्ता संघ लोहरदगा की चुनाव समिति को अविलंब चुनाव हेतु नियुक्त पर्यवेक्षकों से संपर्क करने का निर्देश दिया। इसके अतिरिक्त यह भी निर्देशित किया गया है कि मतदाता सूची के प्रारूप को राज्य विधिज्ञ परिषद के कार्यालय को प्रेषित किया जाए जिससे उक्त मतदाता सूची के प्रारूप का राज्य विधिज्ञ परिषद द्वारा  मतदाता सूची के प्रारूप का अंतिम रूप से सत्यापन किया जाएगा और सत्यापन के बाद मतदाता सूची राज्य विधिज्ञ परिषद द्वारा प्रकाशित कर चुनाव समिति को भेजी जाएगी। श्री पांडे ने अपने पत्र में स्पष्ट रूप से निर्देश दिया है कि जब तक राज्य विधिज्ञ परिषद द्वारा मतदाता सूची का सत्यापन नहीं कर लिया एवं विधिज्ञ परिषद द्वारा चुनाव समिति को सूचित नहीं किया जाय, तब तक चुनाव से संबंधित किसी भी प्रक्रिया को स्थगित रखा जाएगा। विदित हो कि चुनाव पदाधिकारी सतीश कुमार विद्यार्थी के द्वारा द्वारा आज अधिवक्ता संघ के चुनाव के संदर्भ में मतदाता सूची का अंतिम रूप से प्रकाशन किया गया एवं नामांकन पत्र बिक्री करने जमा करने चुनाव कराने आदि से संबंधित तिथियों की घोषणा की गई है। इन सूचनाओं के प्रकाशन के बाद राज्य विधिज्ञ परिषद द्वारा चुनाव समिति के लिए नामित वरीय अधिवक्ता मनोज प्रसाद एवं देवाशीष कर ने चुनाव पदाधिकारी को पत्र के माध्यम से चुनाव की प्रक्रिया पर आपत्ति करते हुए विरोध दर्ज कराया और कहा कि जब राज्य विधिज्ञ परिषद द्वारा चुनाव से संबंधित स्पष्ट निर्देश पूर्व में ही प्राप्त हुआ था तो उन निर्देशों की करते हुए  चुनाव की तिथियों की घोषणा करना मॉडल रूल का उल्लंघन है। अधिवक्ता द्वय ने संयुक्त हस्ताक्षर से पत्र देते हुए इसकी प्रति राज्य विधिज्ञ परिषद को प्रेषित की जिसके उपरांत राज्य विधिज्ञ परिषद ने कार्रवाई करते हुए सचिव के द्वारा पत्र प्रेषित करते हुए चुनाव की प्रक्रिया पर रोक लगा दी है।

- Sponsored -

Looks like you have blocked notifications!

- Sponsored -

- Sponsored -

Comments are closed.