Live 7 TV
सनसनी नहीं, सटीक खबर

संघ प्रमुख मोहन भागवत बंगाल में चार दिनों तक रहेंगे

- Sponsored -

कोलकाता : राष्ट्रीय स्वंयसेवक संघ (आरएसएस) के प्रमुख मोहन भागवत आगामी चार दिनों तक बंगाल के दौरे पर रहेंगे। वे पश्चिम मेदिनीपुर जिले के केशियारी में आरएसएस की सांगठनिक बैठक व कार्यक्रम में हिस्सा लेंगे। केशियारी में 18 से 21 मई तक होने वाले आरएसएस के संघ शिक्षा वर्ग कार्यक्रम में आरएसएस प्रमुख की निगरानी में स्वयंसेवकों को शारीरिक और बौद्धिक प्रशिक्षण दिया जाएगा। दूसरी ओर, भागवत के इस दौरे में संघ परिवार व भाजपा की धुर विरोधी बंगाल की मुख्यमंत्री व तृणमूल कांग्रेस प्रमुख ममता बनर्जी उन्हें फल और मिठाई भेजेंगी।
ममता ने पश्चिम मेदिनीपुर जिले में आयोजित प्रशासनिक बैठक के दौरान पुलिस अधिकारियों से बातचीत में भागवत की यात्रा का उल्लेख करते हुए उन्हें मिठाई और फल भेजने का निर्देश दिया। बता दें कि ममता का मंगलवार से तीन दिवसीय जंगल महल दौरा शुरू हुआ। इसके तहत वह सुबह पश्चिम मेदिनीपुर पहुंचीं और वहां प्रशासनिक बैठक कीं। देर रात भागवत भी इसी जिले के केशियारी आ रहे हैं। वहीं, मेदिनीपुर में प्रशासनिक बैठक के दौरान ममता ने कानून-व्यवस्था की स्थिति की समीक्षा करते हुए खुद ही भागवत के दौरे का जिक्र किया। ममता ने केशियारी के थानेदार से बातचीत के दौरान कहा कि क्या बात है, आपके के इलाके में आरएसएस चीफ आ रहे हैं। आप ख्याल रखिएगा। ममता ने कटाक्ष करते हुए कहा कि प्रशासन की ओर से उन्हें फल और मिठाई भिजवा दीजिएगा, ताकि वे समझ पाएं कि हम लोग सभी का स्वागत करते हैं। ममता ने अधिकारियों को यह भी निर्देश दिया कि अच्छी तरह से उनकी सुरक्षा का ख्याल रखिएगा, लेकिन यह देखिएगा कि कहीं दंगा नहीं लगा दें।

- Sponsored -

बता दें कि ममता, आरएसएस के खिलाफ लगातार मुखर रही है। गौरतलब है कि आरएसएस प्रत्येक साल संघ शिक्षा वर्ग कार्यक्रम देश के विभिन्न इलाकों में आयोजित करता है और इसमें स्वयंसेवकों को प्रशिक्षित किया जाता है। भागवत संघ के इसी कार्यक्रम के सिलसिले में चार दिनों तक केशियारी में रहेंगे। इस दौरान वह संघ के वरिष्ठ पदाधिकारियों संग सांगठनिक बैठक भी करेंगे।

Looks like you have blocked notifications!

- Sponsored -

- Sponsored -

Comments are closed.