Live 7 TV
सनसनी नहीं, सटीक खबर

पर्यावरण संतुलन के साथ जीवन जीने के आधार हैं पेड़-पौधे: अनुपमा भगत 

- Sponsored -

सरना आदिवासी कल्याण समिति  द्वारा मसना स्थल पर पौधरोपण सराहनीय: सुखदेव भगत
कयूम खान
लोहरदगाः सरना आदिवासी कल्याण समिति लोहरदगा के तत्वावधान में रविवार को करम टोली जुरिया स्थित समाज के मसना स्थल पर बृक्षरोपण का कार्यक्रम किया गया। जिसका शुभारंभ कार्यक्रम के मुख्य अतिथि लोहरदगा नगर परिषद अध्यक्ष श्रीमती अनुपमा भगत एवम् विशिष्ट अतिथि पूर्व विधायक सुखदेव भगत के द्वारा नीम और आम पौधों का रोपण कर किया गया।
मौके पर मुख्य अतिथि श्रीमती भगत ने कहा कि पेड़ हमें जीवन प्रदान करता है।इस तरह के नेक काम समाज द्वारा किया जाना सराहनीय कार्य है। इससे ना केवल लोगों को छाया मिलेगा, बल्कि इससे पर्यावरण संतुलन और जीवन जीने का आधार भी मिलेगा।उन्होंने कहा प्रयास ही सफलता की कुंजी है। पूर्व विधायक सुखदेव भगत ने कहा कि आने वाले पीढ़ी के लिए यह मसना स्थल उपयोगी सिद्ध होगा और इसके विकास के लिए हमसे जो सहयोग बनेगा हम तैयार हैं।
उन्होंने कहा कि इस तरह का विचार जिनके भी मन में आया होगा, अत्यंत महत्वपूर्ण और दूरदर्शिता को बताता है। उन्होंने कहा कि पेड़ लगाना बहुत आसान है, लेकिन उसको बचाना सबसे महत्वपूर्ण काम है। इससे पूर्व समिति की ओर से नगर परिषद अध्यक्ष व पूर्व विधायक के पहुंचने पर समाज की ओर से जोरदार तरीके से ताली बजा कर और माला पहना कर स्वागत  किया गया। सरना आदिवासी कल्याण समिति और वन विभाग के सहयोग से विभिन्न प्रकार के पौधे जैसे आम, जामुन, सागवान, करम, करंज, गंभार, बकाइंध, गुलमोहर, आंवला, बरगद, शीशम, नीम, अमरूद आदि के करीब 250 पौधे लगाए गए। इस वृक्ष रोपण कार्यक्रम में समिति के सभी सदस्यों ने अपने-अपने हाथों से पौधे लगाए और पानी डाले।साथ ही पर्यावरण संरक्षण के लिए सदैव तत्पर रहने की बात कही गई।
इस कार्यक्रम में सरना आदिवासी कल्याण समिति के अध्यक्ष दिवाली कश्यप, उपाध्यक्ष विजय कुमार भगत, कोषाध्यक्ष शनीचरवा उरांव, मनी उरांव, सुखदेव उरांव, सुरेन्द्र भगत, कलावती देवी, चॉन्हस उरांव, रामचंद्र उरांव, परमेश्वर उरांव, मंगलेश्वर उरांव, बुधराम उरांव, मुन्नी मिंज, गोपाल उरांव, तेत्रू उरांव, सुरेश भगत, शिवनाथ उरांव, प्रभु भगत, राजेश्वर भगत, शांति कुजूर, हेलेन कुजूर, सुनीता उरांव, मगदली के अलावा स्थानीय लोग भी शामिल थे।कार्यक्रम के अंत में कलावती देवी ने धन्यवाद ज्ञापित किया और कार्यक्रम समाप्ति की घोषणा कीं।
Looks like you have blocked notifications!

- Sponsored -

Leave a Reply