Live 7 TV
सनसनी नहीं, सटीक खबर

तमिलनाडु में तीसरे रविवार को भी पूर्ण लॉकडाउन

- Sponsored -

चेन्नई: कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों के मद्देनजर तमिलनाडु सरकार ने लगातार तीसरे रविवार को यहां पूर्ण लॉकडाउन लगा दिया। इसके कारण सड़कें सुनसान नजर आईं जबकि सभी व्यापारिक और व्यावसायिक प्रतिष्ठानें बंद रहीं।राज्य में कोरोना वायरस के रोजाना मामले में वृद्धि हुई है जो 30,000 से अधिक के आंकड़े को पार कर चुका है।
जनवरी में लगातार तीसरी बार रविवार को लॉकडाउन लगाये जाने से पूर्ण बंद की स्थिति है। इस रविवार को पूर्ण लॉकडाउन लगा दिया गया। हालांक सार्वजनिक परिवहन सेवाओं के अलावा चेन्नई मेट्रो रेल सेवाएं और ओमनी बस सेवाओं पर भी रोक लगा दी गयी।
दक्षिणी रेलवे ने हालांकि, डॉक्टर, मीडिया एवं स्वास्थ्य सेवा कर्मियों के लिए सकेलतल उपनगरीय ईएमयू सेवाएं संचालित की।
इसी दौरान शहर के मुरुगम मंदिर में 14 साल के अंतराल के बाद प्रसिद्ध वडापलानी भगवान का प्रतिष्ठापन किया गया, जिसमें भक्तों को मंदिर में प्रवेश की अनुमति नहीं दी गई। इससे भक्तों एवं श्रद्धालुओं ने यूट्यूब चैनल के माध्यम से प्रतिष्ठान कार्यक्रम को देखा।
मुख्यमंत्री एम के स्टालिन ने वायरस को नियंत्रित करने के लिए चिकित्सा विशेषज्ञों व अन्य अधिकारियों से बातचीत की, जिसके बाद छह जनवरी शाम दस बजे से सुबह पांच बजे तक कर्फ्यू लगा दिया गया। शहर में सार्वजनिक स्थानें हफ्ते में तीन दिन शुक्रवार, शनिवार और रविवार को बंद रहेंगी और मंदिरों, चर्चों, मस्जिदों और अन्य पूजा स्थलों में सार्वजनिक प्रवेश पर प्रतिबंध लगा दिया गया है।
श्री स्टालिन ने कहा कि आवश्यक सेवाओं पर लॉकडाउन से छूट दी गई है जबकि हवाई अड्डों और रेलवे स्टेशनों पर आवश्यक दस्तावेज और टिकट दिखाने पर प्रवेश की अनुमति दी जा रही है।
उल्लेखनीय है कि लॉकडाउन के दौरान कैब व आॅटो चालकों के भागने पर जनता की शिकायत पर ग्रेटर चेन्नई सिटी पुलिस, चेन्नई सेंट्रल और एग्मोर में प्रीपेड आॅटो सेवाओं को सक्रिय कर दिया गया है। राज्य सरकार ने चालक संघों को निर्देश दिया कि वे लॉकडाउन में यात्रियों से न भागें।
चेन्नई शहर के पुलिस आयुक्त शंकर जिवाल ने आॅटो और टैक्सी चालक संघों के प्रतिनिधियों के साथ बैठक की जिसमें यात्रियों को सुविधा देने के कदम उठाने पर बातचीत हुई और उन्होंने चालक संघों को कड़े निर्देश दिए कि जनता द्वारा दोबारा शिकायत मिलने पर कार्रवाई की जाएगी।
सरकार ने पूर्णबंदी के दौरान लोगों को विवाह कार्यक्रम करने की अनुमति दे दी है।
चेन्नई और उपनगरों में 300 से अधिक चेक पोस्ट बनाए गए और बेवजह घूमने वाले वाहनों को जब्त कर लिया गया।

Looks like you have blocked notifications!

- Sponsored -

- Sponsored -

Comments are closed.