Live 7 TV
सनसनी नहीं, सटीक खबर

बरात से लौट रहे बाइक सवार तीन युवकों की मौत

- Sponsored -

नालंदा: यहां बरात से लौटकर आ रहे बाइक सवार तीन युवकों को रहुई में ट्रक ने रौंद दिया। हादसे में तीनों की मौके पर ही मौत हो गई। ये तीनों एक ही परिवार के हैं और दूल्‍हे के चचेरे भाई बताए जा रहे हैं। सभी युवक बिंद थाना क्षेत्र के दमा गांव से शादी समारोह में शिरकत करने के बाद अपने घर चंडी थाना क्षेत्र के परानचक गांव जा रहे थे। घटना के लगभग एक से डेढ़ घंटे के बाद रहुई पुलिस घटनास्‍थल पर पहुंची। इधर, हादसे के बाद गुस्‍साए ग्रामीणों ने एनएच-78 को रहुई के पास जाम कर दिया है। लोगों को समझाने के लिए डीएसपी (विधि-व्यवस्था) भी घटनास्थल पर पहुंचे हैं। मिली जानकारी के अनुसार शुक्रवार की सुबह रहुई थाना क्षेत्र के काजीचक में एस एच-78 पर बरात से लौट रहे बाइक सवार तीन चचेरे भाइयों की मौत ट्रक से कुचलकर हो गई। तीनों की उम्र 20 साल के करीब थी। वे तीनों चंडी थाना क्षेत्र के प्राण चक गांव के निवासी थे और चचेरे भाई रंजीत कुमार की शादी में शामिल होने पटना जिले के बाढ़ अनुमंडल के भदौर थाना क्षेत्र के दहमा गांव गए थे। सुबह में तीनों प्राण चक लौट रहे थे।
मरने वालों में विद्यानन्द पासवान के पुत्र रवि कुमार, पुकार पासवान के पुत्र राजू कुमार तथा उपेंद्र पासवान के पुत्र बंटी कुमार शामिल हैं। राजू और बंटी अपने चचेरे भाई थे, जबकि रवि कुमार दादा की पीढ़ी के चचेरे भाई थे। रवि तीन भाइयों में दूसरे नंबर पर था। राजू दो भाइयों में छोटा था। जबकि बंटी भी तीन भाइयों में दूसरे नंबर पर था।
तीनों युवक बरात से लौटने से पहले दूल्हा रंजीत कुमार से सहमति ले ली थी। दूल्हा रंजीत ने बताया कि सुबह करीब 4:30 बजे वरमाला की रस्म अदायगी की जा रही थी। उसी बीच इन तीनों ने घर जाने के लिए पूछा। हमने हां कर दी। एक घंटे बाद दुर्घटना में मौत की खबर मिल गई। उसके बाद जैसे-तैसे शादी की रस्में पूरी की गई। दुर्घटना में चचेरे भाइयों की मौत के बाद रंजीत दुल्हन को मायके में ही छोड़कर बरात संग लौट आए। बताया गया कि बरात डहमा गांव समय से रात 10 बजे पहुंच गई थी, लेकिन घराती पक्ष के तरफ से स्वागत की तैयारी मुकम्मल नहीं थी। इस कारण शादी की रस्म अदायगी में बहुत विलंब हुआ और वरमाला की रस्‍म भोर में कराई गई।

Looks like you have blocked notifications!

- Sponsored -

- Sponsored -

Leave A Reply