Live 7 TV
सनसनी नहीं, सटीक खबर

फिलिस्तीन में भारी आर्थिक संकट, इजरायल में रोजगार के आवेदन के लिए जुटे हजारों फिलिस्तीनी

- Sponsored -

गाजा: फिलिस्तीन में बिगड़ती अर्थव्यवस्था के बीच इजरायल में काम करने के परमिट के आवेदन के लिए हजारों फिलिस्तीनी नागरिक गाजा में चैंबर आॅफ कॉमर्स के मुख्यालय के सामने एकत्रित हुए।
हमास के 2007 में 20 लाख से अधिक की आबादी वाले विवादित गाजा क्षेत्र पर जबरन कब्जा करने के बाद इजरायल ने यहां कड़ी नाकाबंदी लगा दी थी। नाकाबंदी के कारण गाजा पट्टी की आर्थिक स्थिति खराब हो गयी है।
फिलीस्तीनी केंद्रीय सांख्यिकी ब्यूरो की ओर से जारी नवीनतम आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार, गाजा के निवासियों की गरीबी दर बढ़कर 53 प्रतिशत हो गयी है, जबकि अत्यधिक गरीबी दर 33.8 प्रतिशत तक पहुंच गयी है।
गौरतलब है कि 2005 से पहले इजरायल 1994 में इजरायल और फिलिस्तीनियों के बीच हस्ताक्षरित पेरिस आर्थिक प्रोटोकॉल के आधार पर गाजा के कामगारों को अपने शहरों के अंदर काम करने की अनुमति देता रहा है। उस समय गाजा के 12,000 से अधिक निवासी ने इजरायल में काम करते थे, जो वहां की अर्थव्यवस्था में लगभग 20 प्रतिशत का योगदान देते थे।
अर्थशास्त्रियों का कहना है कि अगर इजरायल गाजा के कामगारों को फिर से अपने देश में काम करने की अनुमति देता है, तो दोनों पक्षों के हित में होगा। इजरायल को योग्य कामगारों की जरूरत है और फिलिस्तीनियों को गरीबी से उबरने और एक गरिमापूर्ण जीवन जीने में मदद मिलेगी।

 

Looks like you have blocked notifications!

- Sponsored -

Leave a Reply