Live 7 TV
सनसनी नहीं, सटीक खबर

बीएचयू में हिन्­दी में भी होगी इंजीनियरिंग की पढ़ाई

- Sponsored -

वाराणसी : बनारस हिन्­दू विश्­वविद्यालय (बीएचयू) हिन्­दी में भी इंजीनियरिंग पढ़ायेगा। नए सत्र से विश्­वविद्यालय इंजीनियरिंग छात्रों को हिन्­दी में पढ़ाई का विकल्­प उपलब्­ध कराने जा रहा है। इसके लिए तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। शुरुआती दौर में इंजीनियरिंग प्रथम वर्ष के छात्रों को हिन्­दी में पढ़ाई का विकल्­प चुनने की सुविधा होगी। बाद में आगे के वर्षों में इसे विस्­तार दिया जाएगा । बीएचयू हिन्­दी में इंजीनियरिंग का विकल्­प देने वाला देश का पहला संस्­थान होगा।
आईआईटी बीएचयू के निदेशक और राजभाषा समिति के अध्यक्ष प्रोफेसर प्रमोद कुमार जैन ने हिन्­दी में इंजीनियरिंग शुरू किए जाने की पुष्टि की है। उन्होंने कहा कि नई शिक्षा नीति में शिक्षा का माध्यम मातृभाषा में किए जाने का प्रावधान है। इसके तहत बीएचयू इंजिनीयंिरग प्रथम वर्ष की पढ़ाई हिन्दी माध्यम से शुरू करने जा रहा है। प्रोफेसर जैन ने कहा कि क्षेत्रीय भाषाओं के सम्­मान और प्रयोग से इंजीनियरिंग को विस्­तार मिलेगा।
संस्­थान ने इसके लिए तैयारी लगभग पूरी कर ली है। हिन्­दी में इंजीनियरिंग पढ़ाने वाले विशेषज्ञों की सूची तैयार की गई है। आवश्­यकता के मुताबिक बाहर से भी हिन्­दी में पढ़ाने के लिए विशेषज्ञों को बुलाने का विकल्­प है। हिन्­दी पाठÑयक्रम के लिए बीएचयू किताबों की व्­यवस्­था भी कर रहा है।
हिन्­दी में इंजीनियरिंग अनिवार्य नहीं वैकल्पिक होगी। जो छात्र हिन्­दी में इंजीनियरिंग करना चाहेंगे उन्­हें ही हिन्­दी में पढ़ाया जाएगा। प्रथम वर्ष के छात्र अब अंग्रेजी के साथ ंिहदी भाषा के चयन भी कर सकेंगे।
गौरतलब है कि नई शिक्षा नीति के तहत केंद्र सरकार ने पिछले साल आईआईटी की पढ़ाई हिन्­दी में शुरू करने का विकल्­प रखा था । बीएचयू ने तभी से इस योजना को अमली जामा पहनाने के प्रयास शुरू कर दिए थे, लेकिन कोरोना के कारण इस पर अमल नहीं हो पाया था। अब संस्थान ने योजना को लागू करने का फैसला कर लिया है। हिन्­दी में आईआईटी बीएचयू में जल्­द ही ंिहदी में एक नया बी-टेक कोर्स शुरू किया जाएगा।

Looks like you have blocked notifications!

- Sponsored -

Leave a Reply