Live 7 TV
सनसनी नहीं, सटीक खबर

नीट पास न कर पाने के डर से छात्र ने की आत्महत्या

- Sponsored -

सलेम : तमिलनाडु के सेलम से एक दुखद घटना समाने आयी है जिसमें मेडिकल प्रवेश के लिए राष्ट्रीय पात्रता एवं प्रवेश परीक्षा (नीट) परीक्षा पास नहीं कर पाने के भय से एक लड़के ने कथितौर से आत्महत्या कर ली।
पुलिस ने बताया कि पीड़ति लड़के की पहचान धनुष के रूप में हुई है। वह राज्य के मेट्टूर जिले के कूलाइयुर में आज सुबह नीट परीक्षा के शुरू होने से पहले घर में मृत पाया गया। धनुष ने वर्ष 2019 में बारहवीं की परीक्षा पास की थी और वह पिछले दो साल से नीट परीक्षा पास करने का प्रयास कर रहा था। धनुष कल देर रात तक अपने तीसरे प्रयास के लिए परीक्षा की तैयारी कर रहा था।
पुलिस ने कहा आज सुबह जब उसके माता-पिता उसे जगाने के लिए कमरे में आए तो उसे मृत पाया गया। इस घटना की सूचना मिलने के बाद पुलिस मौके पर पहुची और उन्होंने शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए मेट्टूर सरकारी अस्पताल भेजा।
मुख्यमंत्री एम के स्टालिन ने धनुष की आत्महत्या पर दुख व्यक्त किया और कहा कि तमिलनाडु को नीट के दायरे से स्थायी रूप से मुक्त करने की मांग वाला एक प्रस्ताव कल विधानसभा सत्र के अंतिम दिन पेश किया जाएगा और पारित किया जाएगा तथा इसके लिए राष्ट्रपति की सहमति लेनी होगी।
तमिलनाडु को नीट परीक्षा से छूट नहीं देने के लिए केंद्र सरकार पर अड़यिल रवैये अपनाने का आरोप लगाते हुए श्री स्टालिन ने कहा कि इस संबंध में कानूनी संघर्ष शुरू हो गया है और उम्मीद जतयी कि इसमें उनकी विजयी होगी।
द्रमुक ने अपने चुनावी घोषणा पत्र में नीट परीक्षा को खत्म करने का वादा किया था।
अन्नाद्रमुक सह समन्वयक एवं पूर्व मुख्यमंत्री इडाप्पडी पलानीस्वामी ने पीड़ति लड़के के आवास में जाकर उसे श्रद्धांजलि दी और शोक संतप्त परिवार के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त की।

Looks like you have blocked notifications!

- Sponsored -

Leave a Reply