Live 7 TV
सनसनी नहीं, सटीक खबर

मोदी का बजट के संदर्भ में दिया गया वक्तव्य वास्तविकता के विपरीत:गहलोत

- Sponsored -

जयपुर: राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के बजट के संदर्भ में दिये गये वक्तव्य को वास्तविकता के विपरीत करार दिया है।
श्री गहलोत ने सोशल मीडिया के जरिए कहा कि प्रधानमंत्री द्वारा बजट के संदर्भ में दिया गया वक्तव्य वास्तविकता के विपरीत है। बजट को अमृतकाल का बजट कहें या कुछ और, उससे यह सच्चाई नहीं बदलने वाली कि भाजपा की नीतियों के कारण देश हर पैमाने पर पिछड़ रहा है। उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि अर्थव्यवस्था की स्थिति खराब हो चुकी है बेरोजगारी बढ़ रही है उद्योग धंधे बड़ी संख्या में बंद हो गये हैं ईंधन और जरुरी सामान की कीमतें आम आदमी के लिए बोझ बन गई है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री बजट को युवाओं, मध्यमवर्ग, गरीबों एवं किसानों के हित का बता रहे हैं जबकि बजट में इनके लिए कोई ठोस प्रावधान ही नहीं हैं। भारत कृषि प्रधान देश हैं और यह पहला ऐसा बजट हैं जिसमें किसानों को कुछ भी नहीं दिया गया है। उन्होंने कहा कि जहां राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) के शासन में गरीबी बढ़ रही है वहीं सरकार ने बजट में जनकल्याण की किसी योजना का ऐलान नहीं किया। इसके विपरीत मनरेगा संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन सरकार के समय की जनहितकारी योजना जिसने कोरोना में गरीबों को संबल दिया, उसका बजट ही घटा दिया गया। मनरेगा का बजट भाषण में या मोदीजी के वक्तव्य में कोई जिक्र तक नहीं किया गया।
उन्होंने कहा कि राजग सरकर अगले 25 साल की योजना की बात करती है परंतु यह नहीं देखती कि आज की नीतियां मजबूत होगी तभी भविष्य भी बेहतर होगा। भाजपा ने देश के विकास को हर दिन पीछे ले जाने का काम किया है। राजग सरकार की गलत नीतियों का परिणाम आने वाले समय में देश को भुगतना पड़ेगा।

Looks like you have blocked notifications!

- Sponsored -

- Sponsored -

Comments are closed.