Live 7 TV
सनसनी नहीं, सटीक खबर

कोविड-19 टीके का दूसरा डोज बेहद अहम

- Sponsored -

लोहरदगा: जिला जनसम्पर्क कार्यालय, लोहरदगा की ओर से सूचीबद्ध कलादल नागेश्वर लोहरा, जागृति कला सांस्कृतिक समिति के कलाकारों द्वारा सेन्हा प्रखंड के अरू में सरकार के द्वारा चलायी जा रही योजनाओं के साथ-साथ डायन कुप्रथा, कोरोना टीकाकरण, सपर्दंश से बचाव, मुख्यमंत्री पशुधन विकास योजना, झारखंड कृषि ऋण माफी योजना, पोषण माह पर विस्तृत जानकारी गीत संगीत नुक्कड़ नाटक के माध्यम से दी गई। कलाकारों द्वारा पोषण के पांच सूत्रों की जानकारी ग्रामीणों को जानकारी दी गयी। इसमें गभर्धारण से बच्चे की उम्र दो वर्ष पूरी हो जाने तक मां व बच्चे की उचित देखभाल की जानकारी, बच्चे को छह माह की उम्र पूरी होने के बाद पर्याप्त पौष्टिक आहार प्रारंभ करने, एनीमिया से बचाव हेतु आयरनयुक्त आहार, डायरिया से बचाव हेतु व्यक्तिगत साफ-सफाई और स्वच्छता एवं साफ-सफाई की जानकारी शामिल हैं। कलाकारों ने नुक्कड़-नाटक के माध्यम से बताया कि कोरोना की तीसरी लहर से बचना है तो कोविड-19 का प्रतिरोधक टीका लेना बहुत ही जरूरी है। जिन लोगों ने अपना पहला डोज प्राप्त कर लिया है तो निर्धारित समयावधि पूरी होने के बाद दूसरा डोज अवश्य ले लें। यह बेहद अहम है। साथ ही अपने आसपास, दोस्तों-रिश्तेदारों को भी कोविड-19 का टीका लेने के लिए प्रेरित करें। इसके अतिरिक्त कोरोना से संबंधित कोई भी लक्षण दिखने पर अपना कोविड-19 जांच अवश्य करायें। हमेशा गर्म पानी का सेवन करें। अपने हाथों को नियमित रूप से साबुन/हैण्डवॉश/सैनिटाइजर से साफ करें। सार्वजनिक जगहों पर हमेशा मास्क प्रयोग करें।
30 सितंबर तक करें आवेदन
कलाकारों मुख्यमंत्री पशुधन विकास योजना की जानकारी देते हुए बताया कि राज्य सरकार ने वित्तीय वर्ष 2021-22 में 02 दुधारू गाय योजना, 05 दुधारू गाय, 10 दुधारू गाय, चारा काटने की मशीन, प्रगतिशील डेयरी कृषकों की सहायता और आहार/मिनरल/शीतवर्द्धक सप्लीमेंट वितरण कार्यक्रम का लाभ उठाने के लिए इच्छुक कृषकों/पशुपालकों से 30 सितंबर 2021 तक आवेदन मांगा है। विशेष जानकारी के लिए जिला गव्य विकास कार्यालय या मोबाइल नंबर 7992340915 पर संपर्क किया जा सकता है।
50 हजार रुपये तक का ऋण माफ
राज्य सरकार ने किसानों का 50 हजार रूपये तक का ऋण माफ करने का निर्णय लिया है। इस योजना के अंतर्गत अगर किसी किसान को अपना 50 हजार रुपये तक का ऋण माफ कराना है तो वे मात्र एक रुपये की टोकन मनी जमा करा अपना ऋण माफ करा सकते हैं। इसमें वैसे किसान लाभान्वित होंगे जिन्होंने 31 मार्च 2020 तक ऋण लिया है। इसका लाभ लेने के लिए किसानों को अपने नजदीकी कॉमन सर्विस सेंटर में जाकर आवश्यक प्रक्रिया पूरी करनी होगी और टोकन मनी जमा करना होगा। किसानों को प्राकृतिक आपदा से पैदावार में होनेवाली क्षति की भरपाई करने के लिए सरकार द्वारा यह योजना प्रारंभ की गई है। कलाकारों ने आम लोगों से डायन प्रथा (कुप्रथा) को जड़ से मिटाने के लिए एकजुट होने की अपील। साथ ही नाटक प्रस्तुत कर डायन प्रथा के दुष्प्रभाव व परिणाम लोगों के बताए। कलाकारों ने बताया कि बारिश के दिनों में कई जगह जहरीले सांप के काटने से मृत्यु की खबरें आती हैं लेकिन अगर बिना समय बर्बाद किये व्यक्ति को स्वास्थ्य केंद्र ले जाने पर उसकी जान बच सकती है। सरकारी स्वास्थ्य केंद्रों पर एंटीवेनम उपलब्ध है।

 

 

Looks like you have blocked notifications!

- Sponsored -

Leave a Reply