Live 7 TV
सनसनी नहीं, सटीक खबर

छत्तीसगढ़ में नक्सली हमले में शहीद हुए जवान…

- Sponsored -

छत्तीसगढ़ और ओडिशा के बॉर्डर पर स्थित नौपाड़ा में नक्सली हमले में सीआरपीएफ के तीन जवानों की मौत हो गई है। हमला मंगलवार दोपहर करीब तीन बजे हुआ। सीआरपीएफ की 19 बटालियन की रोड ओपनिंग पार्टी पर नक्सलियों ने अचानक फायरिंग शुरू कर दी जिसमें तीन जवानों की मौके पर ही मौत हो गई। कई जवानों के घायल होने की भी सूचना है।

मिली जानकारी के अनुसार जवान बोडेन पुलिस थाना इलाके के भैंसदानी के जंगल में रोड ओपनिंग पार्टी में तैनात थे। दोपहर करीब तीन बजे नक्सलियों ने घात लगाकर अचानक से फायरिंग शुरू कर दी। जवानों को संभलने का भी मौका तक नहीं मिला। आपको बता दे की हमले में एसआई शिशुपाल सिंह, एएसआई शिवलाल ,नूर हुसैन व कांस्टेबल धर्मेंद्र कुमार सिंह फायरिंग की घटनास्थल पर ही मौत हो गई।

- Sponsored -

इनमे से एक यमुनानगर के साढौरा थाना क्षेत्र के गांव कल्याणपुर निवासी थे जो की अब शहीद हो गए। उनका नाम नूर हुसैन था और इनकी उम्र 45 वर्ष थी ।नूर हुसैन नक्सली हमले में नक्सलियों के हाथो शहीद हो गए। वह सीआरपीएफ के केंद्रीय रिजर्व पुलिस फोर्स में तैनात थे। उनके शहीद होने का पता लगते ही क्षेत्र के लोग गांव में पहुंचने शुरू हो गए हैं। दोपहर तक उनका पार्थिव शरीर गांव में आ सकता है। यहीं पर उनका पार्थिव शरीर सुपुुर्दे खाक किया जाएगा।

आपको बता दे की शहीद नूर हुसैन के दो बच्चे हैं। उन्होंने अपनी बड़ी बेटी की शादी कर दी है। और उनका बेटा मोईन 14 वर्ष का है। जो इस समय 12वीं में पढ़ रहा है। वर्ष 1996 में वह सीआरपीएफ में भर्ती हुए थे। इस समय उनकी ड्यूटी छत्तीसगढ़ के डीजापुर में थी। वहीं पर नक्सली हमले में गोली लगने के कारन वह शहीद हो गए हो गए।

Looks like you have blocked notifications!

- Sponsored -

- Sponsored -

Leave A Reply