Live 7 Bharat
जनता की आवाज

त्योहार पर बढ़ जाता है मिठाइयों का कारोबार, कलर- फूल मिठाइयों को खरीदने से बचे – मुस्कान कुमारी

- Sponsored -

sweets shop

- Sponsored -

रांची: भारत में त्योहार के सीजन में मिलावटी मिठाइयों का बाजार में बिकने की संभावनाएं काफी बढ़ जाती है. एक अनुमान के अनुसार देश में मिठाइयों का सालाना कारोबार 65 हजार करोड़ रुपये से ज्यादा का है. दिवाली पर दूसरे किसी भी त्‍योहार के मुकाबले सबसे ज्‍यादा मिठाइयां बिकती हैं. अगर झारखंड की राजधानी रांची की बात करे तो यहां भी दिवाली पर मिठाइयों की बंपर मांग होती है.

मिलावटी मिठाइयों का पहचान कैसे करे और इसे खरीदने से कैसे बचें इसको लेकर डाइटिशियन मुस्कान कुमारी ने बताया की त्योहार के सीजन में ज्यादा जगहों पर मिठाईयां बिकती है और इसकी मांग भी ज्यादा होती है. त्योहार के समय बाजार में कलर फूल मिठाईयां बिकती है. मिलावटखोरों ने नकली चॉकलेट और घटिया गुणवत्‍ता के ड्राई फ्रूट्स भी बेचने शुरू कर दिए हैं. सूखे मेवों को ताजा दिखाने के लिए केमिकल्‍स का प्रयोग किया जा रहा है. इसके अलावा उन पर चमक लाने के लिए रंगों का प्रयोग किया जा रहा है. इसलिए आपको दिवाली पर मिठाई खरीदते समय सावधानी बरतनी चाहिए.मिलावटी मिठाइया या कोई और खाद्य सामग्री किसी भी व्‍यक्ति को गंभीर रूप से बीमार कर सकती है. सबसे अधिक लोग पेट से संबंधित बीमारियों से पीड़ित होते हैं. मिलावटी मिठाइयां खाने से लीवर पर सूजन आ जाना, फूड प्वाइजनिंग, पेट में दर्द जैसी समस्‍या ज्‍यादा होती हैं. इसलिए मिठाई खरीदते समय हमेशा सतर्कता बरतें.

Looks like you have blocked notifications!

- Sponsored -

- Sponsored -

Comments are closed.

Breaking News: