Live 7 TV
सनसनी नहीं, सटीक खबर

साहब की मेरबानी माफिया फिर लिख रहे अवैध मांइनिंग की कहानी

रातभर क्रशरों का हो रहा संचालन,अवैध खुदाई भी शुरू

- Sponsored -

राम प्रसाद सिन्हा
पाकुड़।पैसा पावर एवं पहुंच का बेजा फायदा फिर से पत्थरो के अवैध उत्खनन,संप्रेष एवं परिवहन में शामिल पत्थर माफिया उठाना शुरू कर दिया है।साहब की मेहरबानी  का आलम यह है कि पत्थर माफिया  फिर से अवैध मांइनिंग की कहानी लिखना शुरू कर दिया है।साहब की मेहरबानी की वहज से उन अधिकारियों की खूब फजीहत हो रही जिन्होंने कुछ दिनों पहले बगैर सीटीओ के संचालित क्रशरों को सील किया  था,अवैध खदानों तक जाने वाले रास्ते की ट्रेंच कटींग करायी थी,कइयों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराया था।
7 1

- Sponsored -

ऐसे अधिकारियों के बारे में खासकर वैध तरीके से पत्थरो का कारोबार करने वाले व्यवसायी सवाल खड़ा कर रहे हैं कि आखिर सील किये गये मालपहाडी रेलवे साइडिंग की क्रशरों का संचालन कैसे  हो रहा,जब वैध क्रशर हैं तो रात में क्रशरों का संचालन जिले के हाथीगढ़, पिपलजोडी,मालपहाडी अपर एवं लोवर रेलवे साइडिंग में क्यों  हो रहा,क्रशरों के संचालकों ने सीसीटीवी कैमरा जिला प्रशासन के जारी फरमान के पंद्रह दिन बाद भी क्यो नही लगवाया। इतना ही नही ,सिगड्डा,पिपलजोडी के खट्टा होटल के पीछे, रामनगर,हाथीगढ़ आदिदर्जनो स्थानों पर अवैध पत्थरो की खुदाई फिर से चालू हो गयी ।

- Sponsored -

अवैध खदानों का संचालन करने वाले,रात में क्रशरों का संचालन करने वाले माफिया का सम्बंध सत्ता पक्ष के साथ कुछ अधिकारियों का संरक्षण मिलने की वजह से ही पत्थरो का अवैध कारोबार फिर से फलना फूलना शुरू हो गया है।पहले दिन में यह गोरखधंधा चलता था अब रात में चल रहा है।जिसके खिलाफ कार्रवाई तो दूर जांच तक की हिम्मत प्रसासन नही जुटा पा रहा।लिहाजा फिर से अवैध मांइनिंग का कारोबार परवान चढ़ रहा है।पत्थर माफियाओं के बुलंद हौसले का ही नतीजा है कि सुरक्षित वन भूमि को रास्ता बनाकर पत्थरो की ढुलाई हो रही है।
प्रशासन  को धत्ता बताते हुए पाकुड़िया प्रखंड के बेनकुड़ा पुल का सहारा लेकर प्रतिदिन सैकड़ो पत्थर से लदे वाहनों का बिना मांइनिंग चलान के पश्चिम बंगाल परिवहन किया जा रहा है,क्योंकि प्रसासन ने इस पुल के निकट बैरियर लगाया ही नही जो। शील क्रशरों को चोरी छिपे चालू करने,रात में क्रशरों का संचालन करने,अवैध, तरीक़े से पत्थरो की खुदाई चालू होने के मामले को जिला खनन पदाधिकारी प्रदीप कुमार साह मानने को तैयार नही हैं।उनका कहना है कि ऐसी सूचना हमे नही मिली है।जिला खनन पदाधिकारी ने कहा कि यदि रात में क्रशर चलता,अवैध पत्थरो की खुदाई होती,सील किये गए क्रशरों का संचालन होता तो चौकीदार या थानेदार से सूचना जरूर मिलती।अलबत्ता उन्होंने यह जरूर कहा कि मामले की जांच की जाएगी।बहरहाल अवैध मांइनिंग मामले में प्रसासन एवं पत्थर माफियाओं के बीच जारी  चूहा बिल्ली के खेल का नुकसान सरकार को उठाना पड़ रहा एवं प्रसासन केअवैध मांइनिंग के खिलाफ कार्रवाई के दावे की पोल  भी खुल रहा।
Looks like you have blocked notifications!

- Sponsored -

- Sponsored -

Comments are closed.