Live 7 TV
सनसनी नहीं, सटीक खबर

रांची के अपर बाजार में दुकान हटाए जाने को लेकर दुकानदारों ने शुरू किया विरोध प्रदर्शन

- Sponsored -

रांची:रांची नगर निगम द्वारा अपर बाजार में वर्षों से चल रहे दुकानों को अवैध घोषित करके तोड़ने और सील करने के विरोध में मंगलवार को रांची के अपर बाजार स्थित गांधी चौक पर लगभग दो हजार दुकानदार और कर्मचारी गांधी चौक और रंगरेज गली में स्थित 150 दुकानों को बंद कर जोरदार प्रदर्शन कर रहे हैं। नगर निगम की इस कार्रवाई के विरोध में व्यापारी एवं कर्मचारी सुबह 9 बजे से ही बाजार में जुटने लगे थे।

प्रदर्शन के दौरान गांधी चौक और रंगरेज गली में स्थित कपड़े, किराना सहित अन्य उत्पादों के दुकानों को बंद ही रखा गया।

सुबह लगभग 10:30 बजे नगर निगम की टीम दुकानों को सील करने के लिए कोतवाली थाना की पुलिस के साथ गांधी चौक पहुंची। निगम और पुलिस को देखते ही व्यापारी एवं कर्मचारियों ने जोरदार प्रदर्शन शुरू कर दिया, जो अब तक जारी है।

मौके पर फेडरेशन चैंबर की टीम व अन्य व्यापारियों के साथ मौजूद चैंबर अध्यक्ष धीरज तनेजा ने कहा कि नगर निगम द्वारा 17 दुकानों को विगत शुक्रवार को नोटिस देकर सील करने के लिए 72 घंटे का समय दिया गया था, जो अनुचित है। इससे पहले अब तक लगभग 500 दुकानों को सील करने का नोटिस निगम द्वारा दिया जा चुका है । उन्होंने कहा कि कोर्ट में निगम के इस फैसले पर स्टे लगने के लिए याचिका दायर की गई है। इसके बावजूद बिना सुनवाई के निगम अपनी कार्रवाई करने पर उतारू है।

- Sponsored -

- Sponsored -

उन्होंने कहा कि किसी भी कीमत पर दुकानों को सील नहीं करने दिया जाएगा। कम से कम इस मामलें मे निगम को न्यायालय के फैसले का इंतजार करना चाहिए। उन्होंने कहा कि नोटिस देकर व्यापारियों को परेशान करना सही नहीं है। ऐसे दुकानों से सरकार और निगम को राजस्व भी मिलता है। इस पर निगम को पुनर्विचार करने की आवश्यकता है।

वहीं, प्रदर्शन कर रहे व्यापारियों का कहना है कि अपर बाजार के कई व्यापारिक प्रतिष्ठान 1932 से हैं। तब नगर निगम का कोई अस्तित्व नहीं था और न ही कोई बिल्डिंग बाई लॉज प्रभावी था। जिन बिल्डिंग को सील करने की नोटिस दी गई हैं, ऐसे सभी भवनों से वर्षो से निगम द्वारा होल्डिंग टैक्स भी लिया जा रहा है। ऐसे में निगम की कार्रवाई अनुचित है।

व्यापारी कह रहे हैं कि सरकार को अब बिल्डिंग रेगुलराईजेशन स्कीम लाना ही चाहिए। इससे लोग अपने भवनों का शुल्क देकर रेगुलराईज करा सकेंगे। सरकार को भी राजस्व की प्राप्ति होगी एवं इस समस्या का स्थाई समाधान हो जाएगा।

इधर,प्रदर्शन की वजह से पुस्तक पथ मार्ग बंद कर दिया गया, जिससे इस मार्ग से बाजार में प्रवेश करने वाले लोगों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। मार्ग बंद होने से लोगों को गांधी चौक एवं महावीर चौक जाने के लिए दूसरा मार्ग अपनाना पड़ रहा है।
वहीं, गांधी चौक में व्यापारी एवं कर्मचारियों का जोरदार प्रदर्शन जारी है। व्यापारी एवं कर्मचारी निगम के विरुद्ध नारा लगाते हुए जोरदार प्रदर्शन कर रहे हैं। किसी भी अप्रिय स्थिति से निपटने के लिए पुलिस टीम भी मौके पर तैनात है।

Looks like you have blocked notifications!

- Sponsored -

- Sponsored -

Comments are closed.