Live 7 TV
सनसनी नहीं, सटीक खबर

सेल कर्मियों ने विरोध के बावजूद मजदूरों से कराया हस्ताक्षर

- Sponsored -

भवनाथपुर: सेल के तुलसीदामर खदान में ठेके मजदूरों के द्वारा पूर्व में तोड़े गए पत्थर की मापी करने पहुंचे सेल के कर्मचारी, संवेदक व यूनियन प्रतिनिधि के बीच त्रिपाठी गुट के मजदूरों के द्वारा विरोध के बावजूद मजदूरों का हस्ताक्षर युक्त सहमति पत्र लिया गया। बताते चले कि सेल प्रबंधन द्वारा मजदूरों को अखबार के माध्यम से सूचना दी गई थी कि 22-23 जनवरी को मजदूरों द्वारा तोड़े गए पत्थर का मापी करा कर मजदूरी भुगतान करना है। इसके बाद संवेदक के द्वारा शनिवार को मे. आरएस ग्रेवाल से शिवपूजन यादव, सुमन श्रीवास्तव, मे. अम्बा लाल पटेल के गुड्डू दुबे अपने कर्मियों के साथ पहुंचे थे। सेल के माइनिंग मेठ जे बाबा व विनय सिंह के बीच मापी को लेकर मजदूर दो पक्ष में अड़ गए। जहां एक पक्ष त्रिपाठी गुट के मजदूरों का कहना था कि बीते 29 दिसम्बर को सेल के प्रशासनिक भवन में श्रम आयुक्त पटना केसी साहू व श्री बंशीधर नगर एसडीओ आलोक कुमार के द्वारा सभी मजदूरों के बीच चार-चार हजार रुपये सामूहिक बांटने को मानते हैं। जबकि दूसरे पक्ष के मजदूरों का कहना है कि जो मजदूर सही मायने में पत्थर तोड़े है उन्ही का भुगतान किया जाए। इस बीच ग्रेवाल कंपनी के शिवपूजन यादव ने सभी मजदूर से अपील करते हुए कहा कि अगर सारे मजदूर की लिखित सहमति पत्र देते हैं तो हमे कोई एतराज नहीं है। सारे मजदूरों का बराबर बराबर बांट दिया जाएगा। जिसमे त्रिपाठी गुट के मजदूरों ने सहमति देने से इनकार कर दिया। वहीं दूसरे पक्ष के मजदूर बीएसएल भवनाथपुर महा प्रबंधक के नाम लिखित सहमति पत्र दे दिया है। संवेदक ने 23 जनवरी तक बचे मजदूर को कंपनी के कार्यालय में आकर सहमति पर हस्ताक्षर करने का समय दिया है। इसके उपरांत आगे के कार्रवाई में संवेदक जुट गए हैं। मौके पर श्री बंशीधर नगर के नियुक्त दंडाधिकारी रणधीर कुमार, नगर थाना एएसआई अगतन टेटे, इंटक यूनियन के प्रदीप चैबे, एटक यूनियन के गणेश सिंह, इंटक (त्रिपाठी) के बबन पासवान, पलामू खान मजदूर संघ के जीवधन साहू, मजदूर शम्भू पासवान, बाला यादव, अनरूद्व यादव, लल्लू चन्द्रवंशी, सूदन राम, सुनेशर यादव, जगेश्वर साव, ललन सिंह, ननकू साव, वीरेंद्र राम, नूपुर साव सहित काफी संख्या में मजदूर उपस्थित थे।
—–

Looks like you have blocked notifications!

- Sponsored -

- Sponsored -

Comments are closed.