Live 7 Bharat
जनता की आवाज

आरएफडीएल:लगातार पांचवीं जीत दर्ज करना चाहेगा केरला

मुम्बई के खिलाफ वापसी चाहेगा हैदराबाद

- Sponsored -

पणजी: केरला ब्लास्टर्स एफसी बुधवार को यहां बेनॉलिम ग्राउंड में रिलायंस फाउंडेशन डेवलपमेंट लीग (आरएफडीएल) में एफसी गोवा के खिलाफ लगातार पांचवीं जीत के साथ शीर्ष-2 में अपनी जगह पक्की करना चाहेगी।केरला के अब चार मैचों में 12 अंक हैं और एक जीत का मतलब होगा कि वे दो मैच शेष रहते हुए 15 अंकों पर पहुंच जाएंगे, जिसका मतलब है कि उसे शीर्ष-2 में एक सुनिश्चित स्थान मिल जाएगा । आरएफडीएल के पहले संस्करण से शीर्ष दो टीमें इस साल के अंत में पहली बार यूनाइटेड ंिकगडम में आयोजित होने वाले नेक्स्ट जेन कप में खेलती नजर आएंगी।देश में फुटबॉल के विकास को समर्थन देने के लिए हीरो इंडियन सुपर लीग के साथ अपनी पुरानी साझेदारी के हिस्से के रूप में नेक्स्ट जेन कप की मेजबानी प्रीमियर लीग (पीएल) द्वारा की जाएगी।केरल अब तक परिपूर्ण टीम की तरह खेली है। उसने अपनी रक्षात्मक दृढ़ता और हमलावर स्वभाव से विरोधियों पर विजय हासिल की है। ंिवसी बैरेटो ने गोल करते हुए योगदान दिया है जबिक कप्तान आयुष अधिकारी ने मिडफील्ड में बेहतरीन खेल दिखाया है। बिजॉय वर्गीज डिफेंस में दीवार की तरह नजर आए हैं। ये खिलाड़ी हीरो इंडियन सुपर लीग का हिस्सा रहे थे। इन सबके अलावा निहार सुदेश, अरित्रा दास और मोहम्मद अमीन ने अपने शानदार खेल की बदौलत केरला को एक न हरा पाने वाली टीम बना दिया है।
एफसी गोवा में उनका सामना एक ऐसी टीम से होगा, जो जीत हासिल करने के लिए व्याकुल है। इस टीम ने अपने पिछले मैच में हैदराबाद एफसी से 2-2 से ड्रा खेला था।गोवा की टीम चार मैचों से चार अंक लेकर अंक तालिका में चौथे स्थान पर है। इस टीम ने सुधार के संकेत दिए थे लेकिन बावजूद इसके उसके हिस्से अब तक सिर्फ एक जीत आ सकी है। डेगी कारदोजो की टीम को केरल के खिलाफ बड़ी परीक्षा देनी है और अपने आप को अभियान में बनाए रखने के लिए उन्हें हर हाल में जीत चाहिए होगी।नागोआ ग्राउंड में होने वाले शुरुआती मुकाबले में हैदराबाद एफसी भी एफसी गोवा की तरह, जीत की राह पर वापस लौटना चाहेगा और मुंबई सिटी एफसी के खिलाफ 2 अंक लेना चाहेंगे। उनका सामना एक ऐसी टीम से है, जो तालिका में सबसे नीचे है और अब तक अपने सभी मैच गंवाए हैं। मुम्बई को अपने आखिरी मैच में बेंगलुरू एफसी के हाथों 0-5 से हार का सामना करना पड़ा था।
हैदराबाद ने गोवा के खिलाफ लड़ाई की भावना दिखाई थी। उसने पीछे से वापस आकर एक अंक हासिल किया था। कोच शमील चेम्बकथ हालांकि चाहते हैं कि उनके बच्चे जीत के लिए जोर दें और अंतिम तीन मैचों में अपने प्रदर्शन को स्थिर रखें।मुंबई की टीम हैदराबाद को हराना चाहेगी क्योंकि अब उसके लिए आगे का अभियान सम्मान बचाने की लड़ाई है। यह टीम जीत के साथ अंक हासिल करके अपने आप को अंक तालिका में अधिक से अधिक ऊंचाई पर ले जाना चाहेगी।

 

Looks like you have blocked notifications!

- Sponsored -

- Sponsored -

Comments are closed.

Breaking News: