Live 7 TV
सनसनी नहीं, सटीक खबर

जहरीली शराब की घटनाओं पर त्वरित कार्रवाई की रणनीति तैयार

- Sponsored -

झांसी 24 फरवरी (वार्ता) उत्तर प्रदेश की वीरांगना नगरी झांसी में गुरुवार को स्वास्थ्य विभाग और आबकारी विभाग के अधिकारियों ने बैठक कर विचार विमर्श के बाद जहरीली शराब पीने से बीमार हुए लोगों को आपातकालीन इलाज मुहैया कराने के लिए रणनीति तैयार की।
अपर मुख्य सचिव, चिकित्सा स्वास्थ्य, उत्तर प्रदेश शासन एवं आबकारी आयुक्त के निर्देश पर इस विषय पर आज मण्डलीय कार्यशाला का आयोजन किया गया जिसमें झांसी मंडल की अपर निदेशक चिकित्सा स्वास्थ्य डॉ. अल्पना बरतरिया ने बताया कि स्वास्थ्य विभाग, उत्तर प्रदेश शासन से मिले निर्देशों के अनुसार किसी भी आपातकालीन स्थिति से निपटने के लिए तैयार रहेगा। इस दौरान जहरीली शराब के सेवन से बीमार व्यक्तियों के आपातकालीन उपचार के प्रोटोकाल/एस.ओ.पी. पर पीपीटी के माध्यम से जिला चिकित्सालय के फिजिशियन डॉ के पी सिंह ने विस्तार से बताते हुए कहा कि सूचना मिलते ही मरीज को डायलिसिस की व्यवस्था वाले स्वास्थ्य केंद्र तक जल्दी से जल्दी पहुंचाया जाए ताकि विशेषज्ञ चिकित्सकों की देखरेख में इलाज संभव हो सके।
संयुक्त निदेशक स्वास्थ्य डॉ. आर के सोनी ने बताया कि जब भी इस तरह की घटना हो तो मरीज को चिकित्सालय लाते समय बायीं करवट लिटाकर और सिर नीचे कर लाना लाभदायक होता है। अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. एनके जैन ने बताया कि ऐसे मरीजों के उपचार के लिए इंजेक्शन फॉर्मेपीजोले की आवश्यकता होती है जो शीघ्र ही अब झांसी में उपलब्ध होगा।
आबकारी उपायुक्त सुनील कुमार मिश्रा ने कहा कि मरीज के उपचार के लिए आवश्यक एथेनॉल की व्यवस्था उनके स्तर से जाएगी तथा स्वास्थ्य विभाग के साथ मिलकर हम किसी भी विषम परिस्थिति से निपटने की तैयारी करेंगे। बैठक में उपस्थित राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के मंडलीय परियोजना प्रबंधक आनंद चौबे ने कहा कि किसी भी आपात स्थिति में एम्बुलेंस की व्यवस्था तत्काल की जाएगी।

Looks like you have blocked notifications!

- Sponsored -

- Sponsored -

Comments are closed.