Live 7 TV
सनसनी नहीं, सटीक खबर

उत्तराखंड में बारिश-बर्फबारी ने बढ़ी मुश्किलें, एसडीआरएफ ने फंसे लोगों को सुरक्षित निकाला

- Sponsored -

देहरादून:उत्तराखंड में बारिश और बर्फबारी ने मुश्किलें बढ़ा दी है। पोलिंग पार्टियों से लेकर पर्यटक और स्थानीय लोग रास्तों में फंस गए। इस बीच एसडीआरएफ और पुलिस भी अलर्ट मोड पर आ गईं। उन्होंने भारी बारिश और बर्फबारी के बीच फंसे कई लोगों को सुरक्षित निकालने के लिए रेस्क्यू आपरेशन तेज कर दिया। टीम ने कई जगहों पर फंसे लोगों को सुरक्षित बाहर निकाला।

उत्तराखंड में मौसम के मिजाज इनदिनों तल्ख हैं। भारी बारिश और बर्फबारी से जनजीवन पूरी तरह से अस्त-व्यस्त हो गया है। कई जगहों पर पर्यटकों, पोलिंग पार्टी और स्थानीय लोगों के फंसने की खबरें भी आ रही हैं। ऐसे में एसडीआरएफ भी पूरी तरह से अलर्ट मोड में आ गई है। एसडीआरएफ मुताबिक चमोली जिले के दीवालीखाल क्षेत्र में बर्फबारी के कारण फंसे छह लोगों का टीम ने रेस्क्यू किया। वहीं, दूसरी ओर सोनप्रयाग पुलिस को जानकारी मिली कि त्रिजुगीनारायण मंदिर से करीब तीन किलोमीटर नीचे कुछ लोग बर्फ में फंस हुए हैं। मौके पर पहुंची एसडीआरएफ की टीम ने दो लोगों को वहां से निकालकर सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया।

- Sponsored -

वहीं, एसडीआरएफ को अल्मोड़ा जिले के मचखली इलाके में कुछ लोगों के फंसे होने की भी सूचना मिली थी। इस पर अधिकारी मौके पर पहुंचे और राहत-बचाव अभियान में जुट गए हैं। कई जगहों पर राहत और बचाव कार्य अभी भी जारी है

उत्तराखंड में 15 पोलिंग पार्टियां बर्फबारी के चलते गंतव्य तक पहुंचने के लिए खासी मशक्कत करनी पड़ी। गढ़वाल मंडल के चमोली जिले में नौ पोलिंग पार्टियां और रुद्रप्रयाग जिले में दो पोलिंग पार्टियां बर्फबारी में फंस गयी।

Looks like you have blocked notifications!

- Sponsored -

- Sponsored -

Comments are closed.