Live 7 TV
सनसनी नहीं, सटीक खबर

प्रो कबड्डी लीग : यूपी की अगली भिड़ंत तेलुगु टाइटंस से तीसरी जीत की तलाश में तैयार योद्धा

- Sponsored -

बेंगलुरू : पिछले मुकाबलों में उम्मीद के अनुसार प्रदर्शन ना कर पाने के बावजूद यूपी योद्धा वर्तमान में प्रो कबड्डी लीग (पीकेएल) के आठवें सीजन में अंक तालिका में छठे स्थान पर है। उनका अगला लक्ष्य शनिवार को 12वें स्थान पर मौजूद तेलुगु टाइटन्स के खिलाफ अपने आगामी मुकाबले में बेहतर प्रदर्शन करना है। बुधवार को हरियाणा स्टीलर्स के विरुद्ध योद्धाओं ने 36-36 से ड्रॉ खेला था, जहां उन्होंने एक समय पर 9 अंकों की बढ़त गंवा दी थी। डिफेंस, जिसने इस सीजन वार्म अप करने के लिए अपना समय लिया है अपने चूके हुए अवसरों को जल्दी दूर करना चाहेंगें और दूसरे स्थान पर रहे बेंगलुरु बुल्स के खिलाफ अपनी प्रचंड जीत से प्राप्त सकारात्मकता को आगे बढ़ाना चाहेंगें। तेलुगु टाइटन्स के विरुद्ध मैच से पहले यूपी योद्धा के मुख्य कोच जसवीर सिंह ने कहा, हमने टीम के भीतर आंतरिक रूप से चर्चा की है और सभी लड़के जानते हैं कि हम पिछले गेम की गलतियों को दोहराने का जोखिम हम और नहीं उठा सकते हैं। एक बात स्पष्ट है कि इस प्रतिस्पर्धी लीग में, यदि आप पेडल से थोड़ा सा भी पैर हटाते हैं, तो आपको भारी कीमत चुकाने के लिए तैयार रहना चाहिए जैसा कि हमने पिछले गेम में किया था।
उन्होंने कहा कि टीम वास्तव में एक सकारात्मक खेल खेलने और अंक तालिका में ऊपर जाने के लिए अधिकतम अंक लेने के लिए पूरी तरह से तैयार है। सुरेंद्र गिल अपमी टीम यूपी योद्धा के लिए स्टार खिलाड़ी उभर कर निकले हैं, लगभग सभी अटैक मापदंडों के साथ-साथ डिफेंस मापदंडों के शीर्ष 10 में हैं और श्रीकांत जाधव भी अपने बेहतरीन रेंिडग फॉर्म में हैं। योद्धाओं के लिए और भी अधिक खुशी की बात यह होगी कि स्टार रेडर प्रदीप नरवाल ने हर मैच में लगातार सुधार दिखाया है । योद्धाओं के अभियान को सही रास्ते पर लाने के लिए कप्तान और डिफेंडर नितेश कुमार भी आगे बढ़कर नेतृत्व करना चाहेंगे। दूसरी ओर तेलुगू टाइटन्स का अभी तक का पीकेएल के आठवें संस्करण के अपना सफर कुछ खास नहीं रहा है। टाइटन्स की ओर से केवल डिफेंडर रुतुराज कोरवी ने ही बेहतर खेल का प्रदर्शन किया है। इसके अलावा, गुजरात जायंट्स के खिलाफ अपने पिछले गेम में 22-40 के अंतर से मिली हार से यूपी योद्धा के खिलाफ उनके अगले मुकाबले के लिए तेलुगु टाइटंस को काफी अधिक मेहनत करनी होगी। जहां तक पीकेएल के आमने-सामने की बात है, तो यहां भी योद्धा अपने पिछले आठ मुकाबलों में से आधों में जीत हासिल करते हुए आगे हैं जबकि दो गेम टाई के रूप में समाप्त हुए। संक्षेप में कहें तो, योद्धा के प्रशंसक शनिवार के खेल से पांच अंक से कम पर निराश होंगे।

Looks like you have blocked notifications!

- Sponsored -

- Sponsored -

Leave A Reply

Your email address will not be published.