Live 7 TV
सनसनी नहीं, सटीक खबर

पीएम आवास में हेराफेरी, लाभुक कोई और भुगतान किसी और को

हिरणपुर प्रखंड के बागशीशा पंचायत अंतर्गत गोपालपुर गांव का मामला

- Sponsored -

IMG 20221006 WA0020
रामप्रसाद सिन्हा
पाकुड़: जिले के हिरणपुर प्रखंड में गरीबो के लिए चलायी जा रही विकास और कल्याणकारी योजनाओं में पंचायत सचिव और बीडीओ सहित योजना से जुड़े कर्मियो द्वारा हेराफेरी किये जाने का मामला इन दिनों चर्चा का विषय बना हुआ है। प्रधानमंत्री के ड्रीम प्रोजेक्ट प्रधानमंत्री आवास योजना को अधिकारियों एवं कर्मियो की लुट खसोट नीति, योजना के क्रियान्वयन में अनियमितता एवं लापरवाही की वजह से वास्तविक लाभुको को न केवल परेशानियो का सामना करना पड़ रहा है बल्कि हेराफेरी नीति के कारण हकमारी का भी शिकार होना पड़ रहा है। ताजा मामला हिरणपुर प्रखंड के बागशीशा पंचायत अंतर्गत गोपालपुर गांव के प्रधानमंत्री आवास योजना के लाभुक संख्या जेएच 2107730 स्व॰ निताई मंडल के पुत्र उज्जवल मंडल से जुड़ा हुआ है। बीडीओ एवं पंचायत सचिव की दोस्ती की वजह से पीएम आवास योजना के लाभुक को कुश्ती करने को मजबुर होना पड़ रहा है। ऐसा इसलिए कि पीएम के ड्रीम प्रोजेक्ट को धरातल पर उतारने में शामिल हिरणपुर प्रखंड के बीडीओ उमेश कुमार स्वांसी, पंचायत सचिव अजीत हेम्ब्रम, कम्प्युटर ऑपरेटर एवं प्रखंड के नाजीर ने एक ऐसी कहानी गढ़ी है जिससे न केवल योजना बल्कि शासन प्रशासन की छवि को भी तार तार कर दिया है। पहले बीडीओ के डिजीटल सिग्नेचर से वास्तविक लाभुक के बजाय दुसरे के बैंक खाते में 40 हजार रूपये प्रथम किस्त ट्रांसफर किया गया। इस योजना में अपनी गलतियों और हेराफेरी को छुपाने की नियत से वास्तविक योजना के लाभुक के बजाय दुसरे व्यक्ति का जीयो टैग किया गया और दुबारा उसी के खाते में द्वितीय किस्त 75 हजार रूपये की राशि ट्रांसफर कर दी गयी। गोपालपुर गांव निवासी स्व॰ निताई मंडल के पुत्र उज्जवल मंडल जिन्हे पीएम आवास योजना का लाभुक वित्तीय वर्ष 2020-21 में बनाया गया था का आवास दो साल बितने के बाद भी नही बन पाया है क्योंकि बैंक खाता संख्या 35337022751 के बजाय गांव के ही स्व॰ मोतीलाल मंडल के पुत्र उज्जवल मंडल के बैंक खाता संख्या 32735720652 में राशि जो ट्रांसफर पंचायत सचिव एवं बीडीओ हिरणपुर के मिलीभगत से जो कर दी गयी थी। पीएम आवास योजना के इस गड़बड़झाला का एक आश्चर्यजनक पहलु यह भी है कि वास्तविक लाभुक उज्जवल मंडल द्वारा आवास निर्माण के लिए राशि मुहैया कराने को लेकर दो साल तक हिरणपुर बीडीओ कार्यालय से लेकर समाहरणालय तक चक्कर लगाया गया और अधिकारियों के यहां लिखित शिकायत भी की गयी लेकिन संवेदनहीन अधिकारियों ने कोई कार्रवाई नही की। नतीजतन बरसात के इस मौसम में भी पीएम आवास योजना का लाभुक उज्जवल किसी तरह खपड़ैल घर में दिन और रात बिताने को मजबुर है। उज्जवल मंडल ने बताया कि 18 अगस्त 2020 को प्रधानमंत्री आवास योजना निर्माण की स्वीकृति आदेश संख्या जेएच 14002/4/1072 के द्वारा दी गयी। उन्होने बताया कि आवास निर्माण के लिए पहली किस्त की राशि 40 हजार रूपये मेरे बैंक खाता संख्या 35337022751 के बजाय गांव के ही दुसरे उज्जवल मंडल जिसे आवास योजना का लाभुक भी नही बनाया गया था उसके बैंक खाता 32735720652 में ट्रांसफर कर दिया गया। उज्जवल ने बताया कि मामले की जब पंचायत सचिव को शिकायत की गयी तो उसने जिस उज्जवल मंडल को आवास योजना का लाभुक नही बनाया गया था उसका फोटो जियो टैग कर ऑनलाइन कर दिया गया और दुसरी किस्त की राशि 75 हजार रूपये बीडीओ द्वारा ट्रांसफर कर दिया गया। बहरहाल प्रधानमंत्री आवास योजना के लाभुक उज्जवल मंडल का मकान अबतक नही बन पाया है। गोपालपुर गांव निवासी उज्जवल मंडल के पीएम आवास निर्माण मामले में राशि का गलत तरीके से किये गये ट्रांसफर के मामले को लेकर उपविकास आयुक्त मो. शाहिद अख्तर ने बताया कि जांचोपरांत जो भी दोषी पाये जायेंगे उनके खिलाफ कार्रवाई की जायेगी। डीडीसी ने कहा कि प्रशासन की छवि को खराब करने वालो को किसी भी सुरत में बख्सा नही जायेगा।

Looks like you have blocked notifications!

- Sponsored -

- Sponsored -

Comments are closed.