Live 7 TV
सनसनी नहीं, सटीक खबर

पंचायत चुनाव : राज्य गठन के बाद तीसरी बार हो रहा चुनाव

- Sponsored -

रांची : झारखंड में राज्य गठन के बाद तीसरी बार पंचायत चुनाव कराये जा रहे हैं। इस बार चुनाव चार चरणों में हो रहा है। राज्य निर्वाचन आयोग के अनुसार, पहले चरण का मतदान 14 मई को होगा। दूसरे चरण का मतदान 19 मई, तीसरे चरण का मतदान 24 मई तथा चौथे व अंतिम चरण का मतदान 27 मई को होगा। दो चरणों के मतदान के बाद चरणवार मतगणना शुरू हो जाएगी। इस दौरान पहले और दूसरे चरण के मतों की गिनती की जाएगी। इसी तरह, तीसरे व चौथे चरण के मतों की गणना एक साथ होगी। मतदान सुबह सात बजे से शाम तीन बजे तक होगा। मतदान बैलेट बाक्स से होगा। राज्य निर्वाचन आयोग के अनुसार, इन चार चरणों में 4,345 ग्राम पंचायतों में 53479 वार्ड सदस्य, 4,345 मुखिया, 5,341 पंचायत समिति सदस्य, 536 जिला परिषद सदस्य के लिए चुनाव कराए जा रहे हैं। राज्य में पहली बार झारखंड गठन के 10 साल बाद वर्ष 2010 में पंचायत चुनाव हुआ था। उसके बाद वर्ष 2015 में पंचायत चुनाव हुआ था।
किस चरण में कितने पदों के लिए होगा चुनाव
प्रथम चरण में 21 जिलों के 72 प्रखंडों में 1127 ग्राम पंचायतों के लिए मतदान होगा। इसी तरह दूसरे चरण में 16 जिलों के 50 प्रखंडों में 872 ग्राम पंचायतों के लिए मतदान होगा। तीसरे चरण में 19 जिलों के 70 प्रखंडों में 1047 ग्राम पंचायतों के लिए मतदान होगा। चौथे चरण में 23 जिलों के लिए 72 प्रखंडों में 1299 ग्राम पंचायतों के लिए मतदान होगा। पहला चरण में 14,079 ग्राम पंचायत वार्ड सदस्य, 1,127 मुखिया, 1405 पंचायत समिति सदस्य तथा 146 जिला परिषद सदस्य चुने जाएंगे। दूसरे चरण में 10,614 ग्राम पंचायत वार्ड सदस्य, 872 मुखिया, 1,059 पंचायत समिति सदस्य तथा 103 जिला परिषद सदस्य चुने जाएंगे। तीसरे चरण में 12,911 ग्राम पंचायत वार्ड सदस्य, 1,047 मुखिया, 1,290 पंचायत समिति सदस्य तथा 128 जिला परिषद सदस्य चुने जाएंगे। चौथे चरण में 15,875 ग्राम पंचायत वार्ड सदस्य, 1299 मुखिया, 1,587 पंचायत समिति सदस्य तथा 159 जिला परिषद सदस्य चुने जाएंगे।
मतदाताओं की कुल संख्या 1.96 करोड़
पंचायत चुनाव में मतदाताओं की कुल संख्या 1,96,16,504 है। इनमें पुरुष मतदाताओं की संख्या 1,00,70,721 और महिला मतदाताओं की संख्या 95,45,702 है। वहीं, अन्य वोटरों की संख्या 81 है। इस चुनाव के लिए कुल 53,480 मतदातन केंद्र बनाए जाएंगे। चलंत मतदान केंद्रों की संख्या 38 होगी। सामान्य मतदान केंद्रों की संख्या 12,821 होगी। संवेदनशील मतदान केंद्रों की संख्या 22,961 होगी। अतिसंवेदनशील मतदान केंद्रों की संख्या 16,698 है। चुनाव के लिए 98,081 बड़े बैलेट बाक्स का इस्तेमाल होगा। छोटे साइज के बैलेट बाक्स 39,928 इस्तेमाल किए जाएंगे।

Looks like you have blocked notifications!

- Sponsored -

- Sponsored -

Leave A Reply