Live 7 TV
सनसनी नहीं, सटीक खबर

लड़ियेगा ,तभी वाजिब हक मिलेगा:हेमंत

- Sponsored -

झारखंड मुक्ति मोर्चा का 43वां झारखंड दिवस मना
दुमका: झामुमो के कार्यकारी अध्यक्ष और राज्य के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कहा कि झारखंड की मजबूत नींव रखना होगा ताकि आने वाली पीढ़ियों को इसका समुचित लाभ मिल सके। वे बुधवार को उपराजधानी दुमका में झारखंड मुक्ति मोर्चा (झामुमो) के तत्वावधान में 43वां झारखंड दिवस समारोह को संबोधित कर रहे थे। इस मौके उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि कोयला,लोहा समेत यहां की खनिज संपदाओं पर केन्द्र सरकार की गिद्ध नजर है। पिछले सौ सालों से झारखंड की खनिज संपदाओं का लूटा जा रहा है। उनकी सरकार केन्द्र सरकार अपना वाजिब हिस्सा मांग रही है ताकि इस राज्य की मजबूत नींव रखी जा सके।
मुख्यमंत्री ने कहा कि यदि लड़ियेगा नहीं तो यहां के लोगों को उनका वाजिब हक और अधिकार मिलने वाला नहीं है। उन्होंने कहा कि उनकी सरकार सामान्य लोगों की भावनाओं से जुड़कर तथा संवेदनशील होकर राज्य के सहायक पुलिस, आंगनबाड़ी सेविका, सहायिका समेत सभी वर्ग के लोगों की समस्यायों के निदान के साथ राज्य के समग्र विकास की दिशा में तेजी से कार्य कर रही है और इन सभी संवर्ग के कर्मियों के मामले में नियम संगत पहल कर रही है। इस राज्य से कोयला,लोह व अन्य खनिज संपदाओं के निकाले जाते रहे हैं लेकिन इस राज्य के विस्थापितों को उनका वाजिब हक नहीं मिल पा रहा है। झामुमो नेता ने कहा कि विस्थापितों को उनका वाजिब हक और अधिकार दिलाने के लिए राज्य सरकार केंद्र सरकार से विस्थापितों के लिए करोड़ तक के ठीके का कार्य देने का प्रावधान करने की मांग पर करती रही है। उन्होंने केंद्र सरकार द्वारा इस नये बजट के माध्यम से इस संबंध में नया कानून बनाने की दिशा में पहल किये जाने का संकेत दिये जाने के लिए केन्द्र को धन्यवाद देते हुए कहा कि केंद्र सरकार ने राज्य सरकार की मांगों को स्वीकार कर लिया है।

- Sponsored -

राज्य के विकास के लिए सभी को मिलकर काम करना होगा : शिबू सोरेन
झारखंड मुक्ति मोर्चा (झामुमो) के अध्यक्ष और राज्यसभा सांसद शिबू सोरेन ने झारखंड को खनिज संपदाओं से सम्पन्न राज्य बताया और कहा कि प्रदेश के समग्र विकास के लिए सभी को मिलकर कार्य करना होगा। झारखंड मुक्ति मोर्चा (झामुमो) के तत्वावधान में बुधवार को 43वां झारखंड दिवस मनाया गया। इस मौके पर श्री सोरेन ने कहा कि झारखंड कोयला, लोहा आदि खनिज संपदाओं से सम्पन्न राज्य है। झारखंड अलग राज्य बनाने के दो दशक बाद भी इस राज्य का और राज्य के लोगों का विकास क्यों नहीं हो सकता है। इस पर सबों को मिलकर विचार करने की जरूरत है। इसके लिए लोगों को जागरूक होना होगा। अधिकारियों को अब बैठे रहने से काम नहीं चलेगा बल्कि झारखंड के तेजी से समग्र विकास के लिए कार्य करना होगा। झामुमो के केन्द्रीय महासचिव विजय कुमार ंिसह द्वारा संचालित जनसभा में झामुमो के शिकारीपाड़ा के विधायक नलिन सोरेन,जामा की विधायक सीता सोरेन, दुमका के विधायक बसंत सोरेन, जिला परिषद अध्यक्ष जायस बेसरा सहित कई प्रमुख वक्ताओं ने भी संबोधित किया और राज्य सरकार द्वारा कोराना संकट के बावजूद दुमका के मसलिया,रानेश्वर, जामताड़ा के नाला और फतेहपुर तक के क्षेत्र में ंिसचाई और पेयजल की आपूर्ति करने से संबंधित मेगा लिफ्ट ंिसचाई योजना समेत राज्य में तेजी से चलाये जा रहे विकास कार्यों पर विस्तार से चर्चा करने के साथ दुमका में हाई कोर्ट का बेंच स्थापित करने, फूलों झानो मेडिकल कॉलेज अस्पताल में सभी आवश्यक संसाधन उपलब्ध कराने तथा दुमका में राजधानी रांची की तरह सभी आवश्यक सुविधा मुहैया कराने के साथ पूर्ण उपराजधानी के रुप में विकसित करने की मांग की। सभा में झामुमो के केन्द्रीय महासचिव सुप्रियो भट्टाचार्य, विनोद पांडेय, मुख्यमंत्री के प्रेस सलाहकार अभिषेक प्रसाद,जिला सचिव शिव कुमार बास्की समेत काफी तादाद में झामुमो कार्यकर्ता भी मौजूद थे।

Looks like you have blocked notifications!

- Sponsored -

- Sponsored -

Comments are closed.