Live 7 TV
सनसनी नहीं, सटीक खबर

एक राजनीतिक संस्थान से बहुत अधिक है संसद: नायडु

- Sponsored -

नयी दिल्ली : राज्यसभा के सभापति एम वेंकैया नायडु ने कोरोना महामारी के कारण उत्पन्न परिस्थितियों पर ंिचता जताते हुये आज मानसून सत्र के पहले दिन सदस्यों से राजनतिक विचारधाराओं से ऊपर उठने और अब तक के अनुभवों के आधार पर कोरोना की संभावित तीसरी लहर से प्रभावी तरीके से निपटने में इस सत्र का प्रभावी उपयोग करने की अपील की।
श्री नायडु ने सत्र के पहले दिन अपने प्रारंभिक संबोधन में कहा कि यह सत्र लोगों के दुख को दूर करने, अपनी आकांक्षाओं और अपेक्षाओं को पूरा करने का एक अवसर है। उन्होंने कहा कि राजनीतिक दल हमारे लोकतंत्र के केन्द्र हैं और संसद के एक राजनीतिक संस्थान होने में कोई भ्रम नहीं है। लेकिन यह संसद को दिये गये अधिकार से बहुत अधिक है। इसको सिर्फ एक राजनीतिक उद्देश्य के लिए उपयोग नहीं किया जाना चाहिए।
सभापति ने महामारी से उत्पन्न स्थिति का उल्लेख करते हुये सदस्यों से राजनीतिक विचारधारा से ऊपर उठने की अपील करते हुये कहा कि सरकार और सदन के सभी पक्षों को पिछले वर्ष जब से महामारी शुरू हुयी है तब से मिलकर समस्या का सकारात्मकता के साथ विचार करने की जरूरत है। लोगों को हम अपने दुख को सहने के लिए नहीं छोड़ सकते हैं। इसके मद्देजनर हम सभी पर बहुत बड़ी जिम्मेदारी है। इसलिए मानसून सत्र की उत्पादकता सुनिश्चित करने की महती जिम्मेदारी है।
उन्होंने कहा कि महामारी ने आधुनिकता की सीमाओं और जीवनशैली के तौर तरीकों को नये सिरे से परिभाषित किया है। इससे सबसे बड़ी सबक मिली है कि हमें समाज और पर्यावरण के साथ सौहार्द के साथ रहने की आवश्यकता है। वैज्ञानिक, चिकित्सकीय और प्रौद्योगिकीय अत्याधुनिकीकरण के बावजूद जीवन को हलके में नहीं लिया जा सकता है। कोविड प्रोटोकॉल के तहत मानसून सत्र के आयोजन का उल्लेख करते हुये सभापति ने सदन को सूचित किया कि अब तक 96 फीसदी अर्थात 221 सदस्यों का टीकाकरण हो चुका है। इनमें से 205 सदस्यों को दोनो डोज लग चुके हैं जबकि 16 सदस्यों को एक डोज लगा हुआ है। उन्होंने कहा कि कुछ सदस्यों ने चिकित्सकीय कारणों से टीका नहीं ले सके हैं।
सभापति ने विभागों से संबंधित संसदीय समितियों का उल्लेख करते हुये उन्होंने कहा कि दो सत्रों के बीच सदन के तहत आने वाली समितियों का प्रदर्शन बेहतर रहा है। उन्होंने बताया कि सदन की सात समितियों की अब तक कुल 20 बैठकें हो चुकी है।

 

Looks like you have blocked notifications!

- Sponsored -

Leave a Reply