Live 7 TV
सनसनी नहीं, सटीक खबर

ओमिक्रोन वैरिएंट : बच्चों पर कोवैक्सीन असरदार

- Sponsored -

स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा- जल्द लगवाएं
कानपुर:ओमिक्रोन के खौफ के बीच बच्चों को कोवैक्सीन की डोज जल्द लगाने की वकालत शुरू हो गई है। कानपुर में ट्रायल की सफलता के बाद टीम के चीफ गाइड ने भारत बायोटेक के साथ स्वास्थ्य मंत्रालय को बच्चों को तत्काल पहली डोज लगाने की सिफारिश की है।

यहां सबसे कम उम्र की ढाई साल की बच्ची पर किया गया था, जो पूरी तरह फिट है। 0-6, 6-12 और 12-18 उम्र के 55 बच्चों पर कोवैक्सीन का ट्रायल जून से अगस्त के बीच किया गया था।

- Sponsored -

दूसरी डोज के बाद एंटीबॉडी टाइटर टेस्ट किए गए। सभी में हाई एंटीबॉडी पाई गई। पूर्व डीजीएमई डॉ. वीएन त्रिपाठी के मुताबिक के मुताबिक यह सही समय है जब बच्चों को टीके की शुरूआत कर देनी चाहिए।

पहली डोज के बाद दूसरी का शेड्यूल अगले महीने आएगा, तब तक लाखों बच्चे नए वैरिएंट से सुरक्षित हो जाएंगे। ट्रायल में कोवैक्सीन की प्रभावकारिता 81 फीसदी से ज्यादा मिली है। खासकर 12-18 साल के किशोरों को इसे लगाने की सिफारिश सरकार और निमार्ता कंपनी से की है।

Looks like you have blocked notifications!

- Sponsored -

- Sponsored -

Comments are closed.