Live 7 Bharat
जनता की आवाज

धार्मिक आयोजन सड़क पर न कर यूपी ने पेश की मिसाल: योगी

- Sponsored -

लखनऊ : ईद, अक्षय तृतीया और परशुराम जयंती के सौहार्द के बीच शांतिपूर्ण ढंग से सम्पन्न होने पर राज्य की जनता का आभार व्यक्त करते हुये मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मंगलवार को कहा कि धार्मिक आयोजनों में दूसरों की सुविधा का ख्याल कर प्रदेश ने स्वस्थ समाज की एक नयी मिसाल पेश की है।
श्री योगी ने ट्वीट किया ‘‘ आज उ.प्र. में अनेक धार्मिक आयोजन सकुशल संपन्न हुए हैं। इन्हें सड़कों पर न आयोजित कर प्रदेश वासियों ने एक अच्छी पहल की है। स्वस्थ व समरस समाज हेतु आस्था का सम्मान एवं कानून का शासन साथ-साथ होना आवश्यक है। यही प्रदेश के विकास व नागरिकों के स्वावलंबन का आधार बनेगा।’’ उन्होने कहा ‘‘ ईद के मौके पर आज पूरे प्रदेश में कहीं भी सड़कों पर नमाज़ नहीं पढ़ी गई। जहां स्थान का अभाव रहा वहां, शिफ्टवार नमाज़ हुई। एक अच्छी पहल को प्रदेशवासियों ने सहर्ष स्वीकार किया। धर्मगुरुओं ने आगे आकर लोगों का मार्गदर्शन किया। इसके लिए सभी का अभिनन्दन।’’ मुख्यमंत्री ने कहा कि स्वस्थ समाज के लिए लोगों की आस्था का सम्मान व कानून का शासन साथ-साथ चलेगा। यही उत्तर प्रदेश के विकास व प्रत्येक नागरिक के स्वावलंबन का आधार बनेगा।
गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश के इतिहास में इस बार पहली बार ऐसा हुआ है जबकि ईद की नमाज़ सड़कों पर नहीं पढ़ी गई। लोनी और हापुड़ जैसे क्षेत्रों में जहां जगह कम रही वहां शिफ्ट में नमाज पढ़ी गई।

Looks like you have blocked notifications!

- Sponsored -

- Sponsored -

Comments are closed.

Breaking News: