Live 7 Bharat
जनता की आवाज

माफिया मुख्तार अंसारी को बड़ा झटका, कोर्ट ने सुनाई 10 साल की सजा

माफिया डॉन मुख्तार अंसारी की लगातार बढ़ रही मुसीबतें

- Sponsored -

यूपी के माफिया डॉन मुख्तार अंसारी की मुसीबतें लगातार बढ़ती जा रही है। आज एमपी एमलए कोर्ट ने गैंगस्टर के तीसरे केस में 10 साल की सजा सुनाई है। इसके साथ ही उस पर 5 लाख का जुर्माना भी लगाया है. इसके साथ ही कोर्ट ने मुख्तार के सहयोगी सोनू यादव को भी 5 साल की सजा सुनाई है और 2 लाख का रूपये का जुर्माना ठोका है.  कोर्ट की सजा सुनने के बाद मुख्तार ने बयान देते हुए कहा कि उनका इस केस से कोई भी लेना देना नही हो वो तो साल 2005 से ही जेल में बंद है जबकि ये केस साल 2009 से जुड़ा हुआ है। वही दूसरी तरफ कोर्ट से सजा सुनने के बाद मुख्तार के वकील लियाकत ने कहा कि हमें न्याय जरूर मिलेगा. हम हाई कोर्ट में अपील करेंगे।

 

- Sponsored -

दो केस में दोषी करार होने के बाद तीसरे में भी हुई 10 साल की सजा

गैंगस्टर के दो केस में दोषी करार दिए जाने के बाद अरविंद मिश्र की एमपी-एमएलए कोर्ट ने अंसारी को गुरूवार को दोषी करार दिया था. जिसमें शुक्रवार को कोर्ट ने माफिया अंसारी को 10 साल की सजा सुनाई है। हालांकि इससे पहले गाजीपुर की एमपी एमएलए कोर्ट ने अवधेश राय हत्याकांड और गैंगस्टर एक्ट के दूसरे केस कृष्णानंद राय हत्याकांड के गैंगस्टर केस में भी सजा सुनाई थी. अब अंसारी को गैंगस्टर के तीसरे केस में भी दोषी करार दिया है।

 

किस केस में हुई मुख्तार को सजा, क्या है पूरा मामला?

19 अप्रैल साल 2009 को हुए कपिल देव सिंह हत्याकांड और 24 नवंबर साल 2009 को हुए मीर हसन अटैक केस में मुख्तार अंसारी के खिलाफ गैंगस्टर का मुकदमा दर्ज किया गया था. इन दोनों ही मामलों में मुख्तार अंसारी को 120 बी यानी साजिश रचने का आरोपी बनाया था हालांकि पुलिस कोर्ट में अंसारी के खिलाफ आरोप साबित नही कर सकी थी। जिसके चलते कोर्ट ने इन दोनो कांड के मुख्तार अंसारी को बरी कर दिया गया था. मगर, अब गैंगस्टर एक्ट केस में कोर्ट ने अंसारी को दोषी करार दिया है और 10 साल की सजा के साथ पर 5 लाख का जुर्माना भी लगाया है

Looks like you have blocked notifications!

- Sponsored -

- Sponsored -

Comments are closed.

Breaking News: