Live 7 Bharat
जनता की आवाज

चाचा पशुपति को झटका देते हुए भतीजा चिराग के खेमे में पहुंची सांसद बीणा देवी !

लोजपा स्थापना दिवस पर सांसद बीणा देवी अचानक बापू सभागार पहुँच गई और चिराग के बारे में कई बातें कहीं

- Sponsored -

न्यूज़ डेस्क

पशुपति पारस को आज बिहार में भतीजा चिराग पासवान  ने बड़ा झटका दिया है। लोजपा स्थापना दिवस पर सांसद बीणा देवी अचानक बापू सभागार पहुँच गई और चिराग के बारे में कई बातें कहीं। बीणा देवी ने चिराग को प्रदेश का अगला सीएम तक कह दिया। चिराग द्वारा आयोजित इस सभा में बीणा देवी के आने के बाद और चिराग की प्रशंसा करने के बाद बिहार के राजनीतिक हलकों में यह चर्चा तेज हो गई है कि क्या वीणा  देवी अब फिर से चिराग पासवान  के साथ जुड़ गई है ?

वीणा देवी लोजपा की संसद है। पिछले लोकसभा चुनाव में लोजपा बिहार में 6 सीटें जीतने में सफल हुई थी। तीन सीट तो पासवान परिवार के लोग ही जीत लिए थे बाकी तीन सीटों पर पार्टी के तीन नेता सफल हुए थे ,इनमे से एक बीणा देवी भी शामिल है। लेकिन रामविलास पासवान के निधन के बाद जब पार्टी में टूट हुई तो बीणा देवी समेत सभी पांच सांसद पशुपति पारस गुट में चले गए थे और चिराग पासवान अपने गुट में अकेला सांसद रह गए थे।

- Sponsored -

हालांकि चिराग के चाचा पशुपति पारस मोदी सरकार में मंत्री है और वे भी एनडीए के हिस्सा हैं। इधर चिराग भी खुद को मोदी का हनुमान बताते हैं और एनडीए के साथ खाफड़े हैं। लेकिन चाचा भतीजा के बीच अभी भी युद्ध जारी है। यह युद्ध खासकर के हाजीपुर सीट को लेकर है। हाजीपुर सीट से अभी पशुपति पारस सांसद हैं। इस सीट से रामविलास पासवान चुनाव जीतते रहे हैं। चिराग कहना है कि चुकी यह सीट उनके पिता की परंपरागत सीट है इसलिए यह सीट उसकी पार्टी को मिलनी चाहिए। जबकि पशुपति पारस का कहना है कि यह सीट उनके भाई की सीट रही है और भाई ने यह सीट हमें दी थी। इसलिए यह सीट हम नहीं छोड़ सकते।

- Sponsored -

कार्यक्रम में पहुंचीं सांसद वीणा देवी ने मीडिया के सवालों के जवाब में कहा कि पार्टी का 24वां स्थापना दिवस है। रामविलास ने स्थापना की थी।  चिराग के कार्यक्रम में आने को लेकर कहा कि घर में अगर कुछ हुआ है तो घर की लड़ाई बाहर नहीं जानी चाहिए।  हम दूसरी पार्टी में चले जाते तब होता कि दूसरी पार्टी में मैं चली गई हूं।  मैं तो लोजपा में ही हूं। चिराग पासवान में आस्था रखती हूं।  ‘बिहार फर्स्ट, बिहारी फर्स्ट’ का विजन लेकर चिराग पासवान चल रहे हैं। आने वाले दिन में वो मुख्यमंत्री भी बनेंगे। पशुपति पारस भी आदरणीय हैं। हमारे नेता हैं।

कार्यक्रम में पहुंचीं सांसद वीणा देवी को लेकर किए गए सवाल पर चिराग पासवान ने कहा कि जो भी हमारे नेता (रामविलास पासवान) के सिद्धांतों और विचारों में विश्वास रखकर वापस आना चाहता है उनका हम लोग स्वागत करते हैं। ऐसे में सवाल उनसे बनता है जिन्होंने होर्डिंग लगा रखा है और दावे कर रहे हैं। इस मामले में पशुपति पारस गुट के प्रवक्ता श्रवण अग्रवाल ने कहा कि अब वीणा देवी चिराग पासवान के कार्यक्रम में चली गई हैं तो इसका मतलब तो पार्टी से चली ही गई है।

Looks like you have blocked notifications!

- Sponsored -

- Sponsored -

Comments are closed.

Breaking News: