Live 7 TV
सनसनी नहीं, सटीक खबर

ग्रामीण विकास मंत्री आलमगीर आलम पहुंचे साहिबगंज, पदाधिकारियों के साथ की बैठक

साहिबगंज: सूबे के ग्रामीण विकास मंत्री आलमगीर आलम आज साहिबगंज जिला पहुँचे जहां उन्होंने जिलास्तरीय पदाधिकारियों के साथ जिले में ग्रामीण विकास की योजनाओं   प्रगति से संबंधित बैठक की।इस बैठक में उपायुक्त रामनिवास यादव ने मंत्री श्री आलम का आभार प्रकट किया तत्पश्चात उन्होंने जिले में ग्रामीण विकास से संबंधित योजनाओं से मंत्री को अवगत कराया। इस दौरान उपायुक्त श्री यादव ने विभिन्न योजनाओं के तहत हुए कार्यों के प्रगति के बारे में विस्तार पूर्वक बताया।

वही बैठक के दौरान उपायुक्त रामनिवास यादव ने ग्रामीण विकास मंत्री आलमगीर आलम को जिले में कोविड-19 संक्रमण के रोकथाम हेतु किए गए उपायों के बारे में जानकारी देते हुए कहा कि वर्तमान समय में जिले में संक्रमण कम है तथा जिले में वृहद पैमाने पर टेस्टिंग की जा रही है। वही उन्होंने बताया कि ग्रामीण इलाकों में कई टीकाकरण केंद्र बनाए गए हैं जिसमें लोगों का टीकाकरण कराया जा रहा है साथ ही मोबाइल वैक्सीनेशन वैन के जरिए भी लोगों को कोविड-19 की वैक्सीन दी जा रही है। उधर बैठक में उपायुक्त ने सहकारिता विभाग द्वारा किए गए कार्यों, भू अर्जन के दौरान मुआवजे की राशि से जुड़ी जानकारियां दी।

इसके अलावा उन्होंने पथ निर्माण विभाग द्वारा बनाए गए सड़क, मरम्मत हुए पथों एवं मरम्मत किए जाने वाले सड़कों की जानकारी दी। कृषि विभाग द्वारा किए गए कार्यों एवं योजनाओं की जानकारी साझा करते हुए वर्तमान समय में कृषि विभाग द्वारा क्रियान्वित योजनाओं से किसानों को किस प्रकार लाभ पहुंचाया जाए इसकी समीक्षा की गई। श्रम विभाग द्वारा दिए गए रोजगारों से संबंधित प्रगति आदि की समीक्षा भी की गई। इस दौरान ग्रामीण विकास हेतु विभिन्न योजनाओं की समीक्षा एवं प्रगति की जानकारी ली गई जिसमें मनरेगा, लेबर इंगेजमेंट, इंदिरा एवं विभिन्न योजनाओं के तहत मिलने वाले आवासों की स्थिति, विद्युत आपूर्ति, पंचायती राज, पेयजल एवं स्वच्छता, चापाकल मरम्मती, जिला समाज कल्याण जैसे विभागों की विस्तृत जानकारी दी गई। इन विभागों में अभी तक हुई प्रगति तथा आगे आने वाले माह में किए जाने वाले कार्यों से संबंधित जानकारी भी दी गई।

इस बैठक के दौरान ग्रामीण विकास मंत्री आलमगीर आलम ने विभिन्न विभागों के योजनाओं एवं योजनाओं में अभी तक हुई प्रगति की जानकारी लेते हुए कोविड-19 संक्रमण के दौरान डॉक्टर, जिला स्तरीय कर्मी, स्वास्थ्य कर्मी, जिला प्रशासन एवं पुलिस प्रशासन द्वारा किए गए कार्यों की सराहना करते हुए कहा कि जिले में वर्तमान समय में कोविड संक्रमम कम है, जिसका पूरा श्रेय स्वास्थ्य कर्मियों एवं जिला प्रशासन की प्रतिबद्धता को जाना चाहिए। जिला प्रशासन, पुलिस प्रशासन एवं स्वास्थ्य विभाग ने लगातार तत्पर रहते हुए हर मोर्चे पर अच्छा कार्य किया है जिसका नतीजा है कि जिले में कोरोना संक्रमण काफी कम है। आगे उन्होंने कहा कि जिले में संक्रमण तो कम हुई है परंतु अभी हमें और सतर्क रहने की आवश्यकता है। जैसा कि वैज्ञानिकों द्वारा बताया गया है कि संक्रमण की तीसरी लहरा आ सकती है, इसलिए हमें ढिलाई नहीं बरतनी चाहिए एवं संक्रमण के प्रति पूरी तरह सतर्क रहने की आवश्यकता है।

वही बैठक के दौरान मंत्री श्री आलम ने कहा कि जिला स्तर के सभी पदाधिकारी एवं पुलिस प्रशासन द्वारा लोगों को लोगों को जागरूक कर वैक्सीनेशन में और अधिक वृद्धि करने की आवश्यकता है, ताकि हमारा जिला संक्रमण से पूरी तरह सुरक्षित हो सके। उन्होंने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों मे लोगों को वैक्सीनेशन के लिए प्रेरित किया जाए एवं उन्हें कोविड-19 वैक्सीन के उपयोगिता के बारे में अवश्य बताया जाए। इसके अलावा मंत्री ने कहा कि ग्रामीण विकास हेतु क्रियान्वित की जाने वाली सभी योजनाओं में आम जनों को ज्यादा से ज्यादा लाभ पहुंचाने के लिए सभी पदाधिकारी गण अपने स्तर से भरसक प्रयास करते रहे। इस दौरान मंत्री ने संबंधित पदाधिकारियों से कहा कि मनरेगा के तहत ज्यादा से ज्यादा लोगों को जोड़ने की कोशिश करें। दीदी बाड़ी योजना के तहत वृक्षारोपण को बढ़ावा दे और मानसून आने के बाद पौधारोपण अवश्य कराएं। उन्होंने बिजली विभाग के एग्जीक्यूटिव अभियंता को सभी गांव में भ्रमण कर बिजली की समस्या का निराकरण करने का निर्देश भी दिया।

इस बैठक में ग्रामीण विकास मंत्री के अलावे उपायुक्त रामनिवास यादव, बोरियो  विधानसभा क्षेत्र के विधायक लोबिन हेंब्रम, विधायक प्रतिनिधि बरहेट पंकज मिश्रा, पुलिस अधीक्षक अनुरंजन किस्पोट्टा, उप विकास आयुक्त प्रभात कुमार बरदियार, अपर समाहर्ता अनुज कुमार प्रसाद समेत सभी विभागों के वरीय पदाधिकारी एवं अन्य उपस्थित थे।

Looks like you have blocked notifications!

Leave a Reply