Live 7 Bharat
जनता की आवाज

मैं अपने लोकसभा का आईडी और पासवर्ड अपने करीबियों के साथ साझा करती हूं… महुआ मोइत्रा का बयान

मैनें कभी भी हीरानंदानी से रिश्वत नही ली है।

- Sponsored -

तृणमूल सांसद महुआ मोइत्रा  ने पैसे लेकर संसद में सवाल पूछने के मामले में स्वीकार करते हुए कहा कि उन्होनें अपने लोकसभा वेबसाइट का आईडी व पासवर्ड अपने करीबी दोस्त व कारोबारी दर्शन हीरानंदानी के साथ साझा किया था। ताकि कारोबारी उनकी तरफ से सवाल पूंछ सकें। सवाल पूंछने वाले सवाल टाइप करके पहले मुझे दिखाते है। जिसे में पढ़ने के बाद उसके बाद सवाल को टाइप किया जाता है। उस दौरान में मेरे मोबाइल पर एक ओटीपी आता है. मैं यह ओटीपी उन्‍हें देती हूं, तब जाकर सवाल दर्ज होता है. इसके आगे महुआ ने कहा कि वो रिमोट एरिया में काम करती है इसलिए काफी व्यस्त रहती है लिहाजा वो अपना आईडी और पासवर्ड कई लोगों के साथ साझा करती है।

 

- Sponsored -

महुआ मोइत्रा ने दावा किया कि सरकारी और संसदीय वेबसाइटों को संचालित करने वाले एनआईसी के पास कोई नियम नहीं हैं. हालांकि, उनकी इस बात का भाजपा सांसद निशिकांत दुबे ने खंडन करते हुए कहा कि एनआईसी द्वारा निर्दिष्ट नियम और एक फॉर्म को पोस्ट किया, जिसे भरना प्रत्येक सांसद के लिए जरूरी है. निशिकांत द्वारा पोस्ट किए गए इस फॉर्म में क्रेडेंशियल्स को निजी और गोपनीय रखने और किसी भी वैकल्पिक उपयोगकर्ता के बारे में एनआईसी को सूचित करने के निर्देश दिए हुए हैं, क्योंकि किसी भी उल्लंघन से देश की सुरक्षा पर सवाल खड़े हो सकते हैं.

महुआ ने इसके आगे कहा कि महुआ ने कहा कि वो दर्शन हीरानंदानी को अपना करीबी दोस्त मानती है इसलिए उन्होने अपने जन्मदिन पर हीरानंदानी से सिर्फ तोहफे के रूप मे स्कार्फ, लिपस्टिक और मेकअप का सामान लिया था। मैनें कभी भी हीरानंदानी से रिश्वत नही ली है। कुछ लोग उनपर हीरानंदानी से 2 करोड़ रूपय रिश्वत लेने के आरोप लगा रहे है। ऐसे में “मैं चाहती हूं की दर्शन हीरानंदानी ही लोगों के सामने आकर बताएं कि क्या उन्होंने मुझे कुछ दिया है? कोई भी किसी पर कुछ भी आरोप लगा सकता है, लेकिन उन आरोपों में जरा भी सच्चाई नही है। आरोप लगाने वाले सबूत सामने रखें.

Looks like you have blocked notifications!

- Sponsored -

- Sponsored -

Comments are closed.

Breaking News: