Live 7 TV
सनसनी नहीं, सटीक खबर

पंजाब में अग्निपथ विरोध प्रदर्शन शुरू, लुधियाना रेलवे स्टेशन पर भारी तोड़फोड़

- Sponsored -

जालंधर : पंजाब सरकार ने केद्र सरकार की अग्निपथ योजना का विरोध करने के बाद राज्य में अब इस योजना के विरोध में युवक सड़कों पर उतर आए हैं। इसके विरोध में शनिवार को युवाओं ने लुधियाना रेलवे स्टेशन पर जमकर तोड़फोड़ की और जालंधर में भी सड़क पर प्रदर्शन किया। आरपीएफ ने लुधियाना रेलवे स्टेशन बंद कर दिया है इसके साथ ही शताब्दी सहित 18 ट्रेनें रद्द कर दी गई हैं। प्राप्त जानकारी अनुसार, सुबह लगभग दस बजे मुंह पर कपड़ा बांधे और हाथों में बेसबॉल बैट लिए कुछ युवक लुधियाना रेलवे स्टेशन परिसर में घुस आए। कई युवकों के हाथों में पेट्रोल से भरी बोतलें ले रखी थी। उन्होंने पुलिस के सामने ही स्टेशन के अंदर तोड़फोड़ की। पुलिस ने 10 युवकों को हिरासत में भी लिया है। प्रदर्शनकारी ट्रेनों को आग लगाने की फिराक में थे। प्रदर्शनकारी जगराओं पुल से होते हुए रेलवे स्टशन पहुंचे थे। इससे पूर्व उन्होंने जगराओं पुल पर पुलिस की पायलट गाड़ी की भी तोड़फोड़ की और रेलवे स्टेशन पहुंच कर प्लेटफार्म नंबर एक के विभिन्न कार्यालयों के शीशे तोड़ डाले। इसके साथ ही ट्रैक को बाधित करने के लिए ट्रैक पर पत्थर फेंके। इस दौरान एक रेलवे कर्मचारी को भी चोट आई है जिन्हें उपचार के लिए सिविल अस्पताल भेजा गया है। पुलिस ने दस उपद्रवियों को पकड़ा है जिन्हें अलग अलग पुलिस थानों में ले जाया गया है और इनसे पूछताछ के बाद ही आगे की कार्रवाई की जपाएगी। अग्निपथ योजना के विरोध की आंच आज जालंधर तक पहुंच गई। अलग-अलग शहरों से आए सैंकड़ों युवाओं ने पीएपी चौक और नेशनल हाईवे पर प्रदर्शन किया, जिसके कारण सैकड़ों वाहन जाम में फंस गए। जालंधर आयुक्तालय पुलिस ने हालांकि सूझबूझ दिखाते हुए कुछ ही देर बाद प्रदर्शनकारियों को वहां से हटा दिया। पीएपी चौक में प्रदर्शन कर रहे युवाओं ने कहा कि केंद्र सरकार उनके भविष्य से खिलवाड़ कर रही है। साथ ही सरकार ने सेना को भी मजाक ही बना दिया है। वह सेना में जाने के लिए दिन-रात मेहनत करते हैं और एकाएक सरकार नया फरमान जारी कर उनके सपनों पर पानी फेर रही है। यह बर्दाश्त नहीं होगा। उन्होने कहा कि पहले कोरोना के कारण दो साल तक सेना की भर्ती बंद रही और अब सरकार के फरमान ने सभी सेना में जाने वाले युवाओं के लिए नई मुसीबत खड़ी कर दी है। शुक्रवार को हरियाणा के कई जिलों में प्रदर्शन के बाद एहतियात के तौर पर पंजाब के सभी बड़े रेलवे स्टेशनों की सुरक्षा बढ़ाई गई थी। राजपुरा, सरंिहद, लुधियाना, जालंधर, ब्यास, अमतृसर, पठानकोट, मोगा और फिरोजपुर स्टेशन समेत राज्य के सभी बड़े स्टेशन हाई अलर्ट पर थे। इसके बावजूद शनिवार को लुधियाना स्टेशन पर तोड़फोड़ की घटना हो गई। तलवाड़ा में केंद्र की अग्निपथ योजना के विरोध में कल सेक्टर नंबर एक चौक पर तलवाड़ा-हाजीपुर सड़क पर एक घंटे तक ट्रैफिक जाम किया गया था। इस रोष प्रदर्शन का नेतृत्व जम्हूरी किसान सभा पंजाब के नेता और शहीद भगत ंिसह नौजवान सभा पंजाब के महासचिव धर्मेंद्र ंिसह ंिसबली ने किया था। ट्रेन परिचालन को जारी रखने और कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए जीआरपी और आरपीएफ के जवान स्टेशन परिसर के साथ रेलवे पुल और रेल पटरियों पर लगातार गश्त कर रहे हैं। रेल पटरियों के आसपास से संदिग्धों को खदेड़ा जा रहा है और चलती ट्रेनों में सख्त जांच चल रही है। जीआरपी और आरपीएफ के अधिकारी जमीनी स्तर पर सुरक्षा व्यवस्था की कमान संभालने में जुटे हैं और पल-पल की जानकारी उच्च अधिकारियों तक पहुंचाई जा रही है।

Looks like you have blocked notifications!

- Sponsored -

- Sponsored -

Comments are closed.