Live 7 Bharat
जनता की आवाज

राजस्थान में कार्रवाई पर बोले खड़गे, यहां भी चुनाव अभियान में उतरी ईडी

राजस्थान में ईडी कार्रवाई की टाइमिंग पर कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने उठाए सवाल

- Sponsored -

 

राजस्थान में कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा के ठिकानों पर ईडी की छापेमारी को बीजेपी का आखिरी दांव करार दिया है.  पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे और मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने चुनाव से पहले इस तरह की कार्रवाई को लेकर सवाल उठाया है. उन्होने कहा कि ने कहा है कि केंद्र की भारतीय जनता पार्टी सरकार चुनाव सामने आते ही प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) तथा आईटी जैसी सरकारी एजेंसियों का दुरुपयोग विपक्षी नेताओं के खिलाफ करती है. उन्होने कहा कि राजस्थान में भी चुनावी फायदे के लिए उसने यही खेल करना शुरु कर दिया है.

राजस्थान में भी विधानसभा चुनाव में उतरी ईडी- मल्लिकार्जुन खड़गे

पार्टी अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा कि चुनाव आते ही ईडी, सीबीआई, आईटी आदि भाजपा के असली ”पन्ना प्रमुख” बन जाते हैं. राजस्थान में अपनी निश्चित हार को देखते हुए भाजपा ने अपना आख़िरी दाँव चला है.
उन्होंने कहा, ‘ईडी ने छत्तीसगढ़ के बाद राजस्थान में भी विधानसभा चुनाव अभियान में उतरते हुए कांग्रेसी नेताओं के ख़िलाफ़ कार्रवाई शुरू कर दी है. मोदी सरकार की तानाशाही लोकतंत्र के लिए घातक है. हम एजेंसियों के दुरुपयोग के ख़िलाफ़ लड़ते रहेंगे. जनता भाजपा को क़रारा जवाब देगी.’

 

- Sponsored -

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने भी उठाए थे कार्रवाई की टाइमिंग पर सवाल

 

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने ईडी की छापेमारी और उसकी टाइमिंग को लेकर सवाल उठाए हैं. उन्होने सोशल मीडिया साइट एक्स पर अपने पोस्ट में लिखा है, ‘ दिनांक 25.10.23. राजस्थान की महिलाओं के लिए कांग्रेस की गारंटियां ल़न्च की. दिनांक 26.10.23 को राजस्थान कांग्रेस अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा के यहां ED की रेड, मेरे बेटे वैभव गहलोत को ED  में हाजिर होने का समन. आप समझ सकते हैं, जो मै कहता आ रहा हूं कि राजस्थान के अंदर ED की रेड रोज इसलिए होती है क्योंकि भाजपा नहीं चाहती कि राजस्थान में महिलाओं को , किसानों को , गरीबों को कांग्रेस द्वारा दी जा रही गारंटियों का लाभ मिले. ’

- Sponsored -

राजस्थान के प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष के कई ठिकानों पर ईडी ने की छापेमारी

 

राजस्थान परीक्षा पेपर लीक मामले में मनी ल़ॉन्ड्रिंग की जांच को लेकर प्रवर्तन  निदेशालय यानि ईडी ने कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा के घर छापेमारी की. गोविंद सिंह डोटासरा  राज्य के पूर्व शिक्षा मंत्री रह चुके हैं. इसके साथ ही कांग्रेस विधायक ओम प्रकाश हुडला के कई जगहों पर भी ईडी ने दबिश दी है. जयपुर, दौसा और सीकर में करीब सात जगहों पर ईडी ने कार्रवाई की है. इस मामले पहले आरपीएसी के मेंबर बाबूलाल कटारा से पूछताछ के बाद ईडी ने ये कार्रवाई की है. ये भी बताया जा रहा है कि ईडी की कुछ और जगहों से शिकायतें मिली थी.

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के बेटे को भी हाजिर होने का समन

 

ईडी ने अशोक गहलोत के बेटे वैङव गहलोत को भी समन जारी किया है ओर उन्हे 27 अक्टूबर को पूछताछ के लिए बुलाया है. अशोक गहलोत पर मॉरिशस में शेल कंपनी के जरिए अवेध संपत्ति को ठिकाने लगाने का आरोप है. मॉरिशस की उस कंपनी का नाम शिवनार होल्डिंग्स है. आशंका जताई जा रही है कि ये एक शेल कंपनी है. दो लोगों प्रवर्तन निदेशालय में इस बारे में शिकायत दर्ज कराई थी. शिकायतकर्ताओं का कहना है कि काले धन को जगह पकड़ाने के लिए ही 2006 में शिवनार होल्डिंग्स की स्थापना की गई थी.

 

राजस्थान में ईडी के छापे से राजनीतिक सरगर्मी बढ़ी

 

गोविंद सिंह डोटासरा कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष हैं और उनकी गिनती राज्य के बड़े नेताओं में होती है. ऐसे में उनके यहां ईडी की छापेमारी की खबर आने के बाद राजनीतिक हलकों में सरगर्मी काफी तेज हो गई है. राजनैतिक आरोप-प्रत्यारोप का दौर शुरू हो गया है.

Looks like you have blocked notifications!

- Sponsored -

- Sponsored -

Comments are closed.

Breaking News: