Live 7 TV
सनसनी नहीं, सटीक खबर

केजरीवाल ने की ‘रेड लाइट आन, गाड़ी आफ’ कैंपेन की घोषणा

- Sponsored -

नयी दिल्ली: दिल्ली के मुख्यमंत्री अरंिवद केजरीवाल ने दिल्ली में वायु प्रदूषण को नियंत्रित करने के लिए मंगलवार को ‘रेड लाइट आॅन, गाड़ी आॅफ’ कैंपेन की घोषणा की। श्री केजरीवाल ने कहा कि हम ‘रेड लाइट आॅन, गाड़ी आॅफ’ कैंपेन 18 अक्टूबर से शुरू करने जा रहे हैं, लेकिन आप आज से ही रेड लाइट पर गाड़ी बंद करना शुरू कर दें। हर दिल्लीवासी ‘रेड लाइट पर गाड़ी बंद करके, हफ्ते में कम से कम एक या अधिक दिन अपनी गाड़ी का इस्तेमाल न करके और ग्रीन दिल्ली एप पर प्रदूषण फैलाने वालों की शिकायत करके वायु प्रदूषण को नियंत्रित करने में मदद कर सकते हैं। अगर रेड लाइट पर गाड़ी बंद रखते हैं, तो साल में 250 करोड़ रुपये की बचत हो सकती है और 13-20 फीसद तक प्रदूषण भी कम हो सकता है। मुख्यमंत्री ने कहा कि पड़ोसी राज्यों ने अपने किसानों की मदद नहीं की है इसलिए किसान न चाहते हुए भी पराली जलाने को मजबूर हैं और उसकी वजह से दिल्ली में प्रदूषण बढ़ने लगा है। सभी से अपील है कि दिल्ली में बाहर से आ रहे पराली के प्रदूषण से निपटने के लिए हर दिल्लीवासी अपने हिस्से के प्रदूषण को कम करने की कोशिश करें।उन्होंने कहा, ‘‘मैं पिछले एक महीने से हर रोज दिल्ली के वायु प्रदूषण का डेटा ट्वीट कर रहा हूं। आपको दिखाने के लिए कि दिल्ली में रोज कितना प्रदूषण है। पिछले एक महीने में हमने देखा कि दिल्ली में इंडस्ट्री और वाहन प्रदूषण समेत सबका मिलाकर दिल्ली का अपना प्रदूषण सुरक्षित दायरे में है। पिछले एक महीने से मैं आपको दिखाने के लिए यह ट्वीट कर रहा था। दिल्ली का वायु प्रदूषण पूरा साल सुरक्षित दायरे में रहता है लेकिन इस वक्त (ठंड के मौसम में) प्रदूषण बढ़ जाता है। आपने देखा होगा कि पिछले तीन-चार दिन से वायु प्रदूषण बढ़ने लगा है क्योंकि आसपास के राज्यों के अंदर वहां की सरकारों ने अपने किसानों की मदद नहीं की। किसान न चाहते हुए भी अपनी-अपनी पराली जलाने के लिए मजबूर हैं। पराली जलनी चालू हो गई है। नासा की सैटेलाइट से जो इमेजेज आ रही हैं, वह यह दिखा रही हैं कि अब पराली जलाने का सिलसिला चालू हो गया है। उसकी वजह से दिल्ली के अंदर प्रदूषण फिर से बढ़ने लगा है।’

Looks like you have blocked notifications!

- Sponsored -

Leave a Reply