Live 7 Bharat
जनता की आवाज

जनजातीय वर्ग दिखावे के आयोजन की जगह सुरक्षा की गुहार लगा रहा आदिवासी वर्ग : कमलनाथ

- Sponsored -

भोपाल: मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने आज जनजातीय वर्ग के राज्य में सर्वाधिक असुरक्षित होने का आरोप लगाते हुए कहा कि इस वर्ग को मध्यप्रदेश सरकार के दिखावे के आयोजनों के स्थान पर सुरक्षा की आवश्यकता है।
श्री कमलनाथ ने सिवनी में दो जनजातीय वर्ग के युवकों की हत्या के मामले में ट्वीट करते हुए कहा कि राज्य सरकार आगामी चुनावों को देखते हुए, पिछले कुछ समय से जनजातीय वर्ग को लुभाने के लिये, इनके महापुरुषों के नाम पर करोड़ों रुपये खर्च कर, भव्य आयोजन-इवेंट कर, ख़ुद को इस वर्ग का सच्चा हितैषी बनाने में लगी हुई है, लेकिन बेहतर हो कि इन आयोजनों की बजाय जनजातीय वर्ग को पर्याप्त सम्मान व सुरक्षा प्रदान करें।
उन्होंने कहा कि यह वर्ग आज सबसे ज्यादा असुरक्षित है। इनके साथ प्रदेश में दमन व उत्पीड़न की घटनाएँ रोजÞ घट रही है। सिवनी जिले में किस प्रकार आदिवासी वर्ग के दो लोगों की बर्बर तरीकÞे से पीट-पीटकर हत्या कर दी गयी। आरोपियों का जुड़ाव भाजपा और उसके संगठनों से सामने आया है।
श्री कमलनाथ ने कहा कि यह वर्ग आज दिखावे के आयोजन की बजाय, खुद की सुरक्षा की गुहार लगा रहा है।
पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि सिवनी की घटना के कुछ आरोपियों को बचाने का प्रयास किया जा रहा है, ऐसी शिकायतें उन्हें निरंतर मिल रही है। इन आरोपियों पर आख़रि बुलडोजर कब चलेगा, उन्होंने सरकार से मांग की कि दोषियों पर कड़ी से कड़ी कार्रवाई हो और इस घटना की सीबीआई जाँच हो।

Looks like you have blocked notifications!

- Sponsored -

- Sponsored -

Comments are closed.

Breaking News: