Live 7 TV
सनसनी नहीं, सटीक खबर

आईपीएल 2021: इस सीजन में पांच युवा खिलाड़ियों ने किया कमाल

- Sponsored -

नई दिल्ली : आईपीएल 2021 के लीग मैच खत्म हो चुके हैं और शुरुआती चार टीमें प्लेआॅफ में पहुंच चुकी हैं। रविवार को दिल्ली और चेन्नई के बीच पहला क्व ालीफायर मैच खेला जाएगा। इस बीच लीग मैचों में कई युवा खिलाड़ियों ने शानदार प्रदर्शन किया है। आईपीएल हमेशा से ही युवा खिलाड़ियों के लिए बेहतरीन मंच रहा है। जसप्रीत बुमराह और हार्दिक पांड्या जैसे कई खिलाड़ी आईपीएल में शानदार प्रदर्शन के चलते भारतीय टीम में आए हैं और भारत के लिए भी लगातार अच्छा प्रदर्शन किया है। इस साल भी कई युवा खिलाड़ियों ने आईपीएल में अपने प्रदर्शन से सभी को प्रभावित किया है। यहां हम ऐसे ही पांच भारतीय युवा खिलाड़ियों के बारे में बता रहे हैं, जिन्होंने अपने प्रदर्शन से सभी का ध्यान अपनी ओर खींचा है।
वेंकटेश अय्यर
आईपीएल 2021 के दूसरे फेज में वेंकटेश अय्यर ने कमाल की बल्लेबाजी की है और गेंद के साथ भी अच्छा प्रदर्शन किया है। कोलकाता की टीम को प्लेआॅफ में ले जाने में अय्यर का बड़ा योगदान है। उन्होंने इस सीजन में कुल सात मैच खेले हैं और 239 रन बनाए हैं। इसके साथ ही उन्होंने तीन विकेट भी झटके हैं। हालांकि उनकी उपयोगिता यहीं खत्म नहीं होती। अय्यर अंत के ओवरों में भी अच्छी यॉर्कर गेंद फेंक सकते हैं और उनके खिलाफ रन बनाना आसान नहीं है। उन्होंने कोलकाता के लिए ओपनिंग करते हुए जिस अंदाज में रन बनाए हैं। उससे यह साफ होता है कि उनके अंदर बड़ा खिलाड़ी बनने की क्षमता है और अय्यर आगे चलकर हार्दिक का वर्कलोड कम कर सकते हैं।
उमरान मलिक
जम्मू और कश्मीर का यह तेज गेंदबाज अपनी स्पीड के चलते लगातार चर्चा में बना हुआ है। उन्होंने इस सीजन में हैदराबाद के लिए सिर्फ तीन मैच खेले हैं और दो विकेट झटके हैं, लेकिन उनका नाम लोकी फर्ग्यूसन और आॅनरिक नॉर्ट्जे जैसे गेंदबाजों के बीच शामिल हो चुका है। उन्होंने इस आईपीएल सीजन की सबसे तेज गेंद भी फेंकी है। बैंगलोर के खिलाफ मैच में उमरान मलिक ने 152.95 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से गेंद की और इस सीजन में सबसे तेज गेंद फेंकने के मामले में लोकी फर्ग्यूसन को पीछे छोड़ दिया। अगर उमरान आगे चलकर अपना प्रदर्शन और बेहतर करते हैं तो वो भारतीय टीम में बाएं हाथ के तेज गेंदबाज की कमी पूरी कर सकते हैं।
ऋतुराज गायकवाड़
चेन्नई सुरकिंग्स के ओपनर ऋतुराज गायकवाड़ ने इस सीजन अपने बल्ले से सभी को काफी प्रभावित किया है। हालांकि उन्होंने इसकी झलक पिछले सीजन ही दिखा दी थी, लेकिन इस साल ऋतुराज ने कमाल की बल्लेबाजी की है। उन्होंने चेन्नई के लिए 14 मैच खेलकर 533 रन बनाए हैं। ऋतुराज लगभग हर मैच में प्लेसिस के साथ मिलकर अपनी टीम को अच्छी शुरुआत दी है। वो आॅरेंज कैप की रेस में भी बने हुए हैं। 24 साल के ऋतुराज आगे चलकर भारतीय टीम में भी जगह बना सकते हैं।
अवेश खान
दिल्ली का यह तेज गेंदबाज इस सीजन में अलग ही लय में नजर आया है। उन्होंने इससे पहले भी आईपीएल खेला है और अंडर-19 वर्ल्डकप में कमाल करने के बाद चर्चा में रहे हैं। इस साल अवेश ने 14 मैचों में 22 विकेट लिए हैं और पर्पल कैप की रेस में दूसरे नंबर पर हैं। अवेश के इस प्रदर्शन के चलते ही दिल्ली की टीम अंकतालिका में पहले स्थान पर रही है। रबादा और नॉर्ट्जे जैसे गेंदबाज पहले ही दिल्ली का गेंदबाजी आक्रमण काफी खतरनाक बनाते हैं। इसके बाद अवेश ने अपने बेहतरीन प्रदर्शन से विपक्षी टीमों के लिए मुश्किलें और बढ़ा दी हैं। यही वजह है कि कुछ मैचों में बल्लेबाजों के साधारण प्रदर्शन के बावजूद दिल्ली की टीम आसानी से जीती है।
अर्शदीप सिंह
पंजाब के अर्शदीप सिंह आईपीएल में पिछले कुछ सालों से अपना प्रभाव छोड़ रहे हैं। हालांकि यह सीजन उनके लिए कमाल का रहा है। पंजाब के लिए अर्शदीप ने रन रोकने के साथ ही विकेट भी खूब चटकाए हैं। उन्होंने 12 मैचों में 18 विकेट अपने नाम किए हैं। अर्शदीप भी बाएं हाथ के गेंदबाज हैं और उन्होंने जिस तरह का प्रदर्शन किया है, जल्द ही उन्हें भी भारतीय टीम में जगह दी जा सकती है। उनकी उम्र सिर्फ 22 साल है। ऐसे में उनके पास खुद को और बेहतर करने के लिए काफी समय भी है।
इन खिलाड़ियों ने भी किया है अच्छा प्रदर्शन
इस सीजन में देवदत्त पडीक्कल, के एस भरत, वरुण चक्रवर्ती, राहुल चाहर, चेतन साकरिया, कार्तिक त्यागी, यशस्वी जायसवाल, महिपाल लोमरोर, रवि बिश्नोई और हरप्रीत ब्रार जैसे खिलाड़ियों ने भी अपने प्रदर्शन से सभी को प्रभावित किया है और आने वाले समय में खुद को और बेहतर करके ये सभी खिलाड़ी भारतीय टीम में जगह बना सकते हैं। या फिर यूं कहा जा सकता है कि भारतीय क्रिकेट का भविष्य इन्हीं खिलाड़ियों के बीच छिपा है।

Looks like you have blocked notifications!

- Sponsored -

- Sponsored -

Comments are closed.