Live 7 TV
सनसनी नहीं, सटीक खबर

नदी के गर्भ में समाया जितनागर गांव, लोग पलायान को मजबूर

- Sponsored -

सरकारी स्कूल भी नदी में समा जाने की कगार पर

उधवा:साहेबगंज जिले में गंगा नदी के कटाव दिन ब दिन भयंकर रूप धारण करने लगा है।बारिश का मौसम शुरू होते ही नदी की जलस्तर में लगातार बढ़ोतरी हो रही हैं। जिससे उधवा प्रखंड क्षेत्र के पूर्वी प्राणपुर पंचायत के जितनागर गाँव की इस वर्ष दर्जनों परिवार का घर गंगा नदी के कटाव की जद में आ गया। जिस कारण लोग बेघर हो गए हैं। साथ ही गांव में स्थित सरकारी मध्य विद्यालय यूएमएस जितनागर भी नदी में समा जाने की कगार पर खड़ी हैं। इससे पूर्व भी इस गांव के करीब 25 परिवार कटाव का शिकार हो बेघर हो चुके हैं। वे लोग गांव से पलायन कर दूसरी जगह जाकर रह रहे हैं। काफी संख्या में कटाव पीड़ित परिवार सड़क किनारे शरण लिए हुए हैं। नदी कटाव से लोग परेशान हैं। गांव के किसान इससे पूर्व साल में ही भूमिहीन बन गए थे। सिर्फ उनके निवास स्थान ही नदी के गर्भ में समा जाने से बचा हुआ था। लेकिन इसबार वो भी नदी के गर्भ समा गया। इस तरह बेरोकटोक नदी के कटाव से नदी किनारे बसे पूर्वी प्राणपुर के रज्जाक टोला, तोबारक टोला, मोरतुज टोला कामर टोला तथा पश्चिम प्राणपुर के बोरक टोला, शौकत टोला, याद आली टोला, हुरमत टोला एवं पालशगाछी के कई गांव के लोगों में भय व्याप्त है।

Looks like you have blocked notifications!

- Sponsored -

Leave a Reply