Live 7 TV
सनसनी नहीं, सटीक खबर

बारिश के दिनों में शहर से कट जाता है हूचलू गांव

जलमग्न हो जाता है दर्जनों गांव को जोड़ने वाला एकमात्र जर्जर हुचलु सड़क
रोशन गुप्ता 
लातेहार: यूं तो झारखंड के ग्रामीण क्षेत्रों के सड़कों की स्थिति बदहाल है। इसमें लातेहार भी अछूता नहीं है । जिले की अधिकांश सड़कें अपनी बदहाली पर आंसू बहा रही है। हाल के दिनों में ग्रामीण पथ निर्माण विभाग द्वारा बनाए गए सड़क भी भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ गए सड़क बनाए तो गए परंतु कुछ ही दिनों में सड़क में बिछाए कंक्रीट उखड़ने लगे। कई क्षेत्रों से ग्रामीणों द्वारा शिकायत भी दर्ज कराया जाने लगा।
अपनी बदहाली पर आंसू बहा रहा हुचलु सड़क
 वर्षों पहले बना हुचलू सड़क अपनी जर्जरता पर आंसू बहा रहा है। सड़क पर बड़े-बड़े गड्ढे उभर आए हैं। सड़क के दोनों ओर बने नहर भी बरसात के दिनों में इस सड़क को डुबो देता है। इस बाबत गांव की ग्रामीण महिला मेमुन बीवी ने बताया कि परेशानी उस वक्त ज्यादा होती है । जब गांव का कोई ग्रामीण बीमार पड़ जाए और उसके पास इलाज कराने को लेकर कोई रास्ता नहीं बचता है । गांव में एंबुलेंस भी नहीं पहुंच पाती हैं। इधर गांव के ग्रामीण बेलाल ,नौशाद, अजय,  सुरेश वह मुखिया पति रोबिन  उरांव ने एक स्वर में बताया कि पास के गांव की सड़कें बन गई है । लेकिन यह सड़क नहीं बन पाया है। इस सड़क का निर्माण होना अति आवश्यक है।
समस्याओं पर ध्यान नहीं: कई गांव को चंदवा प्रखंड से जोड़ने वाला उक्त सड़क का जर्जर होना एक बड़ी समस्या है । जिस पर स्थानीय विधायक बैजनाथ राम ,लातेहार उपायुक्त अब्बू इमरान तथा सरकारी बाबूओ का इस समस्या पर ध्यान नहीं देना ग्रामीणों के लिए दर्द का कारण बन पड़ा है।
पदाधिकारियों ने अब तक नहीं लिया जायजा
 ग्रामीणों की माने तो गांव की बदहाली वह सड़क की जर्जर स्थिति पर जनप्रतिनिधि वह सरकार के नुमाइंदो की नींद अब तक नहीं खुली है गांव में किसी प्रकार का तंत्र नहीं पहुंचा है जो जन समस्याओं पर सरकार का ध्यान आकृष्ट करा सके।
Looks like you have blocked notifications!

Leave a Reply