Live 7 TV
सनसनी नहीं, सटीक खबर

दहेज-हत्या मामले में सास, ससुर व पति को उम्रकैद 

- Sponsored -

दहेज के खातिर बहु की हत्या के मामले में तीन साल बाद पिता को मिला इंसाफ
संजय कुमार 
भंडरा-लोहरदगा: अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश एडीजे 1 गोपाल पांडे के न्यायलय में मंगलवार को दहेज के खातिर बहू को जहर देकर मारने की पुष्टि होने पर सास, ससुर और पति को आजीवन कारावास की सजा सुनाई गई है। उल्लेखनीय है कि 10 अक्टूबर 2018 को लोहरदगा थाना क्षेत्र के भुजनियां गांव निवासी शहबान अंसारी ने भंडरा थाने में अपनी पुत्री तमन्ना नाज की निकाह भंडरा थाना क्षेत्र के आकाशी गांव निवासी हाफिज उर्फ रसीद अंसारी पिता यूसुफ अंसारी के साथ किया था।
निकाह के कुछ दिन बाद से ही दहेज को लेकर तमन्ना को पड़ताड़ित करने लगे और 29 अक्टूबर 2018 को तमन्ना को जहर देकर मार दिया गया। घटना के बाद तमन्ना के पिता शहबान अंसारी ने भंडरा थाने में कांड संख्या 9/18 धारा 304 बी/34 भादवी के तहत पांच लोगों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कराया था।
मामले के अनुसंधान कर रहे एएसआई श्रीकांत दास ने बताया कि मृतका के बिसरा को रांची होटवार के प्रयोगशाला में जांच में जहर देकर मारने की पुष्टि होने के बाद  न्यायाधीश गोपाल पांडे द्वारा मृतका के सास मकिना खातून, ससुर यूसुफ अंसारी एवं पति हाफिज उर्फ रसीद अंसारी तीन आरोपियों को आजीवन कारावास की सजा सुनाई गयी। इधर तीन वर्ष के बाद इंसाफ मिलने पर मृतका के पिता शहबान व उसके परिजनों ने न्यायालय पर भरोसा और आभार जताया है ।
Looks like you have blocked notifications!

- Sponsored -

Leave a Reply