Live 7 TV
सनसनी नहीं, सटीक खबर

अवैध बालू का कारोबार जोरों पर, नदियों का अस्तित्व खतरे में

बड़कागांव : उत्खनन विभाग व पुलिस की उदासीनता के कारण बड़कागांव प्रखंड तथा आसपास के क्षेत्र के विभिन्न नदियों में बालू का उत्खनन जोरों पर है। इसके कारण नदियों का अस्तित्व खतरे में है। इस क्षेत्र में पूरी रात ट्रैक्टर, टर्बो, व हाइवा के माध्यम से बालू की अवैध ढुलाई की जाती है।

दिन में भी खुले आम सैकड़ों ट्रैक्टर से बालू की ढुलाई की जाती है। बालू ढोने वाले ट्रैक्टर बिना त्रिपाल ढँके ही बालू का ट्रांसपोर्टिंग करते हैं। जिस कारण अंगों, बादम, तलसवार नया टाँड़, शिंबाडीह, विश्राम पुर, बड़कागांव एवं हजारीबाग रोड में बालू गिरे हुए नजर आते हैं। जिससे पर्यावरण व खेती पर गहरा असर पड रहा है।

जिला प्रशासन कभी-कभी ही एकाध ट्रैक्टर को धर-पकड़ कर खानापूर्ति करती है। इससे प्रतिदिन सरकार को लाखों रुपए के राजस्व की हानि हो रही है। वही इस मामले में प्रशासनिक विभाग एवं खनन विभाग चुप्पी साधे हुए है।

बड़कागांव प्रखंड के छवानिया नदी, सिरमा नदी, हहारो नदी के मंझला बाला नदी, महुदी नदी, सोनपुरा, बादमाहि नदी, सांढ़ नदी, हरली, विश्रामपुर, गोंदलपुरा नदी, कांडतारी नदी, मिजार्पुर,आँगो व पलान्डु पंचायत के कई नदियोँ से बालू का उत्खनन जोरों पर है। बड़कागांव के अंचलाधिकारी वैभव कुमार सिंह का कहना है कि नदियों में अवैध तरीके से उत्खनन करने वालों पर कार्रवाई प्रखंड प्रशासन की ओर से जारी है।

Looks like you have blocked notifications!

Leave a Reply