Live 7 Bharat
जनता की आवाज

सत्ता में आए तो ‘दरबार मूव’ का फैसला पलट देंगे: बुखारी

महाराजा रणबीर सिंह ने 1872 में ‘दरबार मूव’ की प्रथा शुरू की थी

- Sponsored -

दिल्ली डेस्क

- Sponsored -

जम्मू-कश्मीर अपनी पार्टी के अध्यक्ष अल्ताफ बुखारी ने मंगलवार को सत्ता में आने पर ‘दरबार मूव’ के फैसले को पलटने का वादा किया है। बता दें कि ‘दरबार मूव’ जम्मू-कश्मीर के सचिवालय और अन्य सभी सरकारी कार्यालयों को एक राजधानी से दूसरे शहर-जम्मू में शीतकालीन राजधानी तथा ग्रीष्मकालीन राजधानी श्रीनगर में द्वि-वार्षिक स्थानांतरण को दिया गया नाम है, जो 1872 से 2021 तक संचालित था।
वर्ष 2021 में हालांकि अधिकारियों ने इस प्रथा को रोक दिया और कहा कि चूंकि प्रशासन ने ई-ऑफिस का परिवर्तन पूरा कर लिया है, इसलिए सरकारी कार्यालयों के द्विवार्षिक ‘दरबार मूव’ की प्रथा को जारी रखने की कोई आवश्यकता नहीं है।
अधिकारियों ने यहां तक कहा कि ‘दरबार मूव’ खत्म होने से सरकारी खजाने में 200 करोड़ रुपये की बचत होगी, डोगरा शासक महाराजा रणबीर सिंह ने 1872 में ‘दरबार मूव’ की प्रथा शुरू की थी। उन्होंने एक्स पर कहा,“जम्मू और कश्मीर अपनी पार्टी ‘दरबार मूव’ के फैसले को बंद करने के फैसले को पलटने की जम्मू के लोगों की वैध मांग का पूरी तरह से समर्थन करती है।”
उन्होंने कहा,“यह रिकॉर्ड में रखा जाए कि सत्ता में आने के बाद अपनी पार्टी इस मामले को प्राथमिकता पर लेगी।” इनपुट वार्ता
Looks like you have blocked notifications!

- Sponsored -

- Sponsored -

Comments are closed.

Breaking News: