Live 7 Bharat
जनता की आवाज

पूर्वांचल में भारी बारिश के आसार, कई जिलों में बिजली करने की चेतावनी

- Sponsored -

WhatsApp Image 2023 09 22 at 07.47.38

उत्तर प्रदेश मौसम अपडेट

22 सितंबर, 2023

  • उत्तर प्रदेश में उमस के बीच बादलों की आवाजाही के कारण बारिश का सिलसिला जारी है. राज्य के विभिन्न हिस्सों में हल्की से मध्यम बारिश हो रही है. बीते चौबीस घंटे में लखनऊ, आगरा और मध्य यूपी सहित प्रदेश के कई हिस्सों में बारिश हुई.
  • मौसम विभाग ने प्रदेश में शुक्रवार को भी बारिश की संभावना जताई है.
  • राजधानी लखनऊ और आसपास के क्षेत्रों में शुक्रवार सुबह की शुरुआत सामान्य मौसम के साथ हुई. दिन और शाम के समय मानसून की गतिविधियों के सक्रिय होने से मौसम बदल सकता है.
  • प्रदेश में शुक्रवार को कुछ स्थानों पर बारिश और गरज के साथ बौछारें पड़ने के आसार हैं. इस दौरान पूर्वी उत्तर प्रदेश में एक या दो स्थानों पर भारी बारिश हो सकती है.
  • प्रदेश में शुक्रवार को कुशीनगर, महाराजगंज, गोरखपुर, संत कबीर नगर, बलिया, देवरिया और उसके आसपास के इलाकों में तेज बारिश होने की संभावना है. इसके साथ ही बांदा, चित्रकूट, कौशाम्बी, प्रयागराज, फतेहपुर, प्रतापगढ़, सोनभद्र, मीरजापुर, चंदौली, वाराणसी और संत रविदास नगर में बादल गरजने के साथ बिजली गिरने के आसार हैं.
  • इसके साथ ही कासगंज, बिजनौर, अमरोहा, मुरादाबाद, रामपुर, बरेली, शाहजहांपुर, बदायूं, जालौन, हमीरपुर, महोबा, झांसी, ललितपुर और उसके आसपास के इलाकों में बादल गरजने के साथ-साथ बिजली गिरने की भी संभावना है. इसके अलावा रायबरेली, अमेठी, सुल्तानपुर, अंबेडकर नगर, सहारनपुर, शामली, मेरठ, मुजफ्फरनगर और बागपत जिले में बादल गरजने के साथ बिजली भी गिरने के आसार हैं. वहीं जौनपुर, गाजीपुर, आजमगढ़, मऊ, बलिया, देवरिया, गोरखपुर, संतकबीर नगर, बस्ती, कुशीनगर, फर्रुखाबाद, महराजगंज, सिद्धार्थनगर, कानपुर देहात और कानपुर नगर में बिजली गिरने की संभावना है.
  • इसके बाद 23, 24 और 25 सितंबर को भी इसी तरह का मौसम रहेगा. पूर्वांचल में एक या दो स्थानों पर भारी बारिश की स्थिति बन सकती है.
  • प्रदेश में 26 और 27 को भी सभी जगह बारिश के आसार हैं. इस तरह सितंबर के अंत तक राज्य में मानसून सक्रिय है.

- Sponsored -

- Sponsored -

चक्रवाती हवाएं इन इलाकों में हैं सक्रिय

  • प्रदेश में अधिकतम और न्यूनतम तापमान में अगले अगले चार दिन तक कोई बड़ा बदलाव होने के आसार नहीं है.
  • मौसम वैज्ञानिकों के मुताबिक एक ट्रफ रेखा पूर्वोत्तर अरब सागर पर बने चक्रवाती पहवाओं के क्षेत्र से पश्चिमी राजस्थान होते हुए पंजाब तक फैली हुई है.
  • निम्न दबाव का क्षेत्र अभी झारखंड से सटे इलाकों पर है. इससे जुड़ा चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र ऊंचाई के साथ दक्षिण-पश्चिम की ओर झुकते हुए 7.6 किमी तक फैला हुआ है और इसके अगले दो दिनों के दौरान झारखंड और दक्षिण बिहार में पश्चिम दिशा में बढ़ने की संभावना है.
  • कच्छ के पश्चिमी हिस्सों पर बना चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र उत्तर-पूर्व अरब सागर के ऊपर चला गया है.
  • औसत समुद्र तल पर मानसून ट्रफ जैसलमेर, कोटा, गुना, सतना, अंबिकापुर से होकर गुजरती है, जो दक्षिण-पूर्व झारखंड और आसपास के क्षेत्रों पर कम दबाव वाले क्षेत्र का केंद्र से होते हुए, दीघा और फिर दक्षिण-पूर्व की ओर पूर्व-मध्य बंगाल की खाड़ी तक जा रही है.

सुरक्षा उपाय

  • मौसम विभाग की चेतावनी के अनुसार, उत्तर प्रदेश के जिन जिलों में शुक्रवार को बारिश और बिजली गिरने की संभावना है, वहां के लोगों को सतर्क रहने की सलाह दी जाती है.
  • बारिश के दौरान घरों से बाहर निकलने से बचें.
Looks like you have blocked notifications!

- Sponsored -

- Sponsored -

Comments are closed.

Breaking News: