Live 7 TV
सनसनी नहीं, सटीक खबर

हरभजन सिंह ने क्रिकेट से लिया संन्यास

- Sponsored -

मुंबई: दिग्गज भारतीय आफ स्पिनर हरभजन सिंह ने शुक्रवार को क्रिकेट से संन्यास ले लिया। उन्होंने दोपहर को अपने यूट्यूब चैनल ‘हरभजन टर्बनेटर सिंह’ पर संन्यास की घोषणा की और ट्विटर पर इसकी जानकारी दी।
उन्होंने अपने चैनल पर एक वीडियो संदेश में कहा, ‘मैं आज क्रिकेट के हर प्रारूप (वनडे, टेस्ट, टी-20) से संन्यास ले रहा हूं। जालंधर की तंग गलियों से भारतीय टीम तक का मेरा 23 साल का सफर बहुत खूबसूरत रहा है। जब भी मैं इंडिया की जर्सी पहन कर मैदान में उतरा हूं, शायद मेरी ंिजदगी में इससे बड़ी प्रेरणा कोई और नहीं थी, लेकिन कभी न कभी एक मुकाम आता है जब आपको जीवन में कठिन फैसले लेने होते हैं और ंिजदगी में आगे बढ़ना होता है। मैं पिछले कुछ सालों से यह घोषणा करना चाह रहा था और इस बात का इंतजार कर रहा था कि मैं आप सभी के साथ इस पल को कब साझा करूंगा।’ पूर्व स्पिनर ने कहा,‘जहनी तौर पर मैं हालांकि पहले ही संन्यास ले चुका था, लेकिन घोषणा नहीं कर पाया। वैसे भी पिछले कुछ वक्त से मैं प्रतिस्पर्धी क्रिकेट नहीं खेल रहा था, लेकिन कोलकाता नाइट राइडर्स (केकेआर) के साथ कमिटमेंट की वजह से मैं चाहता था कि मैं आईपीएल 2021 सीजन में रहूं, लेकिन सीजन के दौरान ही मैंने संन्यास लेने का मन बना लिया था। वैसे हर क्रिकेटर की तरह मैं भी टीम की इंडिया जर्सी में क्रिकेट को अलविदा कहना चाहता था, लेकिन तकदीर को कुछ और मंजूर था।’’ हरभजन ने कहा,‘क्रिकेट करियर की बात करूं तो सबसे पहली खुशी मुझे तब मिली जब मैंने कोलकाता में हैट्रिक ली थी और मैं पहला भारतीय गेंदबाज बना, जिसने टेस्ट क्रिकेट में हैट्रिक ली। साथ ही साथ ही इस सीरीज में मैंने तीन मैचों में 32 विकेट लिए। यह रिकॉर्ड अब तक बरकरार है। इसके बाद 2007 में पहला टी-20 विश्व कप और 2011 का वनडे विश्व कप मेरे लिए सबसे अहम और खास थे। ये ऐसे यादगार लम्हें थे जिन्हें शायद मैं ंिजदगी भर भुला नहीं पाऊंगा। मैं इसे शब्दों में भी बयान नहीं कर पाऊंगा कि यह मेरे लिए कितनी बड़ी खुशी थी। इस सफर में मुझे कई ऐसे लोगों का साथ मिला जो दुनिया में बहुत ही कम लोगों को नसीब होता है, जिसमें से कुछ मेरे दोस्त बने और कुछ परिवार का हिस्सा। अंडर-14 से इंडिया सीनियर और आईपीएल में अपने सभी साथी और विरोधी खिलाड़यिों का शुक्रिया करता हूं, जिन्होंने जिंदगी में आगे बढ़ने के लिए प्रोत्साहित किया।’’ उल्लेखनीय है कि हरभजन ने 367 अंतरराष्ट्रीय मैचों में कुल 711 लिए हैं। 103 टेस्ट मैचों में उनके नाम 417, 236 वनडे मैचों में 269 और 28 टी-20 अंतरराष्ट्रीय मैचों में 25 विकेट हैं। उन्होंने 163 आईपीएल मैच भी खेले हैं, जिसमें उन्होंने 150 विकेट लिए हैं।

Looks like you have blocked notifications!

- Sponsored -

- Sponsored -

Comments are closed.