Live 7 Bharat
जनता की आवाज

दिल्ली NCR बना गैस का चैंबर, खराब प्रदूषण के चलते सांस लेना दूभर

दिल्ली-एनसीआर में जल्द लागू होगा “GRAP” 3 प्लान

- Sponsored -

देश की राजधानी दिल्ली समेत पूरे एनसीआर का वातावरण इन दिनों प्रदूषण से गैस का चैंबर बन चुका है। दिल्ली व उसके आस-पास के सटे पड़ोसी जिले (नोएडा, ग्रेटर नोएडा, फरीदाबाद, गाजियाबाद समेत एनसीआर) में रोजाना हवा की गुणवत्ता यानी एयर क्वालिटी इंडेक्स लगातार बेहद खराब दर्ज की जा रही है. 29 अक्टूबर की सुबह दिल्ली का औसतन वायु गुणवत्ता 309 जबकि जहांगीरपुरी इलाके का AQI 566  दर्ज किया गया है. जोकि बेहद खराब कैटेगरी में आता है.

- Sponsored -

दिल्ली, नोएडा, गाजियाबाद, फरीदाबाद और गुरुग्राम में सुबह के वक्त हवा में धुंध नजर आ रही है।  फिलहाल हवा का गिरता स्तर देखकर हालात में सुधार होने की अभी कोई उम्मीद नहीं है, बल्कि दिवाली के मौके पर प्रदूषण और बढ़ने की संभावना है. प्रदूषण को बढ़ता देख जल्द ही दिल्ली-एनसीआर में ग्रेडेड रेस्‍पांस एक्‍शन प्‍लान (GRAP) 3 लागू किया जा सकता है.

 

दिल्ली-एनसीआर में जल्द लागू होगा “GRAP” 3 प्लान

 

लगातार बढ़ते प्रदूषण को देखते हुए दिल्ली-NCR में पहले से ही GRAP-1 और GRAP-2 की पाबंदियां लगाई जा चुकी हैं, लेकिन जिस तरह से रोजाना AQI मे रोजाना गिरावट दर्ज हो रही है उसको देखकर ऐसा लग रहा है कि जल्दी ही GRAP 3 को भी लागू किया जा सकता है. वही खराब प्रदूषण को देखते हुए रोजाना सुबह मॉर्निंग वॉक पर निकलने वाले ज्यादातर लोगों को मास्क लगाए हुए देखा जा रहा है। तो वही दिल्ली सरकार ने भी प्रदूषण की रोकथाम के लिए गुरुवार से ‘रेड लाइट ऑन इंजन ऑफ’ अभियान की शुरुआत की. ताकि दिल्ली के प्रदूषण में कुछ हद तक सुधार हो सकें।

 

GRAP 3 लागू हुआ तो लग जाएगी ये पाबंदियां

 

राजधानी दिल्ली समेत एनसीआर में खराब AQI को देखते हुए जल्द ही GRAP 3 लागू किया जा सकता है। अगर ऐस हुआ तो पूरे दिल्ली-एनसीआर में कंस्ट्रक्शन और डिमोलिशन, माइनिंग, स्टोन क्रशर के काम पर रोक लगा दी जाएगी. इसके अलावा बिना पेट्रोल के चलने वाली फैक्ट्रियों पर भी रोक लगा दी जाएगी।  हालांकि उस वक्त मिल्क-डेरी यूनिट और दवा बनाने वाली फैक्ट्रियों को छूट रहेगी.

 

कब और क्यों लगाया जाता है ग्रेडेड रेस्‍पांस एक्‍शन प्‍लान (GRAP)

जब हवा की गुतवत्ता खराब दर्ज की जाती है. तब उससे निपटने के लिए ग्रेडेड रेस्‍पांस एक्‍शन प्‍लान (GRAP) को लागू किया जाता है। GRAP को चार स्टेजो में बांटा गया है। ग्रेप का पहला स्टेज तब लागू किया जाता है जब AQI का स्तर 201 से 300 के बीच दर्ज किया जाता है। दूसरे स्टेज में AQI 301 से 400, तीसरे स्टेज में 401 से 450 के बीच और चौथे स्टेज में AQI 450 के ऊपर दर्ज होता है।

Looks like you have blocked notifications!

- Sponsored -

- Sponsored -

Comments are closed.

Breaking News: