Live 7 TV
सनसनी नहीं, सटीक खबर

@जी बाबा और बंटी के भयादोहन का कोरम टूटा- पत्रकारों के आक्रोश पर सहमे गुरु चेले

- Sponsored -

लाइव 7 ने दिखाई एकता और सच्चाई की ताकत
धनबाद : अब @जी बाबा किसी पत्रकार का दुष्प्रचार नही करेंगे। उनके भयादोहन का कोरम टूट गया है। अब उनको ये समझ में आ गया की ये 21वीं शताब्दी का दौर है। जमाना डिजिटल प्लेटफार्म का है। खुद भ्रष्टाचार में लिप्त रहकर दूसरे को भ्रष्टाचारी कहना भारी पड़ सकता है। पोर्टल लाइव 7 में @जी बाबा के कारनामों की परत खुलते ही, जी बाबा को चक्कर मारने लगा,जी बाबा ने अप्रत्यक्ष रूप से इसकी फरियाद शुरू कर दी। इसके साथ ही शोषण के शिकार दर्जनों पत्रकारों को भी भविष्य में अपनी लड़ाई लड़ने का बल मिल गया। जी बाबा से पीड़ित पत्रकारों ने प्रखर होते हुए कहा यदि @जी बाबा ने अपनी कार्यशैली में सुधार नही लाया, तो इनके खिलाफ चहुंओर विरोध के स्वर फूटेंगे, जिसकी कल्पना भी उन्होंने कभी नही की होगी।
IMG 20211205 143732
धनबाद प्रेस क्लब अध्यक्ष ने पत्रकारों से किया संयम के साथ सामंजस्य बनाने की अपील
पत्रकार चाहे किसी भी संस्थान से जुड़ा हो पत्रकार समाज का आईना होता है। समाज के लोग पत्रकारों पर विश्वास करते है। अगर किसी पत्रकार से कोई गलती हुई है तो उसके लिए भी पत्रकार संघ है। बैठक कर उस संबंध ने उचित निर्णय लिया जा सकता है। उक्त बातें धनबाद प्रेस क्लब के अध्यक्ष अशोक कुमार ने शनिवार को गांधी सेवा सदन में पत्रकारों के साथ हुए बैठक के दौरान कही। उन्होंने सभी अखबार,पोर्टल व इलेक्ट्रॉनिक मीडिया से भी अपील करते हुए कहा की हम सभी को समाज के स्वच्छ वातावरण का पालन करना चाहिए ताकि कोई भी असामाजिक तत्व इसका फायदा नही उठा सके।
IMG 20211205 143744
पत्रकारों से जुड़े मामले को संघ गंभीरता से लेगा
बैठक के दौरान काफी गहमा गहमी का माहौल रहा। उपस्थित पत्रकारों में @जी बाबा के प्रति काफी आक्रोश था पत्रकारों ने अध्यक्ष की बातों पर सहमति जताते हुए कहा की आप का निर्देश सर्वोपरी है लेकिन @जी बाबा ने दर्जनों पत्रकारों के संग बहुत बुरा किया है। पत्रकारिता की आड़ में व्यक्तिगत निशाना साधा है। जिस पर अध्यक्ष ने सभी को शांत करते हुए आश्वासन दिया की आगे से इस तरह के कृत्य करने वालो के विरुद्ध गंभीरता से संज्ञान लिया जाएगा। पत्रकार को नीचा दिखाने का अधिकार किसी को नही है। इससे समाज में गलत संदेश जाता है। यदि आगे से कोई ऐसा करता है तो संघ इसके विरुद्ध आगे की रणनीति तय करेगा।
बैठक के दौरान उठा झरिया प्रेस क्लब का मुद्दा
बैठक में उपस्थित 7लाइव के कुंदन सहित अन्य ने झरिया प्रेस क्लब के पुनर्गठन का मामला उठाया। उन्होंने अध्यक्ष से आग्रह करते हुए कहा की झरिया प्रेस क्लब को संवैधानिक रूप से प्रक्रिया में लाया जाए। अन्य प्रेस क्लब की तरह यहां भी चुनाव प्रक्रिया संपन्न करवाई जाए। झरिया क्षेत्र के पत्रकारों की सदस्यता प्रमाणित की जाय ताकि झरिया प्रेस क्लब समाज में एक नया आयाम स्थापित कर सकें और इसके प्रतिष्ठा में इजाफा हो। कहा की प्रेस क्लब और उसके कार्यालय की अपनी एक गरिमा होनी ही चाहिए। उसके प्रतिष्ठित पद पर पिछले कई वर्षो से स्वयंभू पदाधिकारी आसीन है। जो क्षेत्र में चर्चा का विषय बना हुआ है। वही इस मुद्दे को लेकर झरिया के कई पत्रकारों ने बैठक कर धनबाद प्रेस क्लब और उपायुक्त को ज्ञापन सौंप पहल करने की बात कही।

- Sponsored -

Looks like you have blocked notifications!

- Sponsored -

- Sponsored -

Comments are closed.