Live 7 TV
सनसनी नहीं, सटीक खबर

पाकुड़ में फल फुल रहा ड्रग्स का कारोबार युवा पीढ़ी हो रहे शिकार

रामप्रसाद सिन्हा
पाकुड़: बालु पत्थर और कोयला के बाद अब जिले में ड्रग्स का अवैध कारोबार अपने परवान पर है। पाकुड़ में फल फुल रहे ड्रग्स के कारोबार का सबसे ज्यादा युवा पीढ़ी शिकार हो रहे है। ड्रग्स का कारोबार प्रशासन के नाक के नीचे हो रहा है लेकिन उसे इसकी भनक नही लग रही। सुबह होते ही खासकर युवक ड्रग्स के कारोबारियो के यहां पहुुंच रहे है। पूरे शहर के आम सहित कई खास लोगो को ड्रग्स के चल रहे कारोबार की भनक है लेकिन इससे यदि कोई अछुता है तो वह है पुलिस महकमा। ड्रग्स कारोबारियो द्वारा नगर थाना क्षेत्र के कई मुहल्लों और सार्वजनिक स्थलों के अलावे मुफसिल थाना क्षेत्र के कई गांवो को भी अपने आगोश में ले लिया गया है। ड्रग्स कारोबारी ब्राउन सुगर और गांजा का जमकर कारोबार कर रहे है लेकिन कोई बर्वाद हो रहा है तो युवा पीढ़ी, कुछ व्यवसायी और ठेकेदार। सुत्रो से मिली जानकारी के मुताबिक नगर थाना क्षेत्र के बैंक काॅलोनी स्थित नव निर्मित स्टेडियम के निकट, नलपोखर, कलपोखर, नयाटोला, चमरा गोदाम, बगानपाड़ा, गोकुलपुर, मौलाना आजाद चैक, मुफसिल थाना क्षेत्र के जुगीगढ़िया, कुलापहाड़ी, संग्रामपुर आदि गांवो और मुहल्लों में ड्रग्स की खरीद बिक्री के साथ ही उसका सेवन भी खुल्लम खुल्ला हो रहा है। सुत्रो के मुताबिक जिला मुख्यालय के एक चर्चित एक इंग्लिश मीडियम स्कुल के निकट ड्रग्स का सबसे बड़ा शहरी क्षेत्र का कारोबारी है जिसके घर पर सुबह होते ही युवक दस्तक देने लगते है। इस स्कुल के आसपास के रहने वाले अधिकांश लोग ड्रग्स के चल रहे कारोबार एवं रोज युवको की लग रही भीड़ से परेशान है। कोई कुछ खुलकर इसलिए नही बोल रहा कि उसे बेवजह परेशान न होना पड़े। प्राप्त जानकारी के मुताबिक चल रहे ड्रग्स के कारोबार में शामिल लोगो को कुछ अधिकारियो का भी संरक्षण मिला हुआ है इसलिए इनके खिलाफ कार्रवाई नही हो रही। सुत्र का तो यह भी दावा है कि साहेबगंज जिले के गुमानी एवं निकटवर्ती पश्चिम बंगाल के मालदा जिले के कालियाचक से ब्राउन सुगर एवं गांजा लाये जा रहे है। ड्रग्स के कारोबार के चंगुल में युवा पीढ़ी के शिकार होने के कारण कई अभिभावक भी परेशान है और वे चैक चैराहे पर अपनी परेशानी बयां कर रहे है। बहरहाल जिले में ड्रग्स का कारेाबार फल फुल रहा है और युवा पीढ़ी इसके शिकार हो रहे है। यहां उल्लेखनीय है कि कुछ माह पूर्व मिली गुप्त सूचना पर पुलिस ने नशीले पदार्थो के साथ कुछ लोगो को गिरफ्तार किया था जिसमें कुछ वर्ग दशम और इंटर के छात्र भी थे जिन्हे काउंसिलिंग कर छोड़ दिया गया और एक कारोबारी को गिरफ्तार कर जेल भेजा गया था। जिले में ड्रग्स कारोबार के कई मामले सामने आये और इसमें शामिल कुछ लोगो को गिरफ्तार भी किया गया लेकिन इसके मुख्य सरगना या आपूर्तिकर्ता तक पुलिस अबतक नही पहुंच पायी है।
Looks like you have blocked notifications!

Leave a Reply