Live 7 Bharat
जनता की आवाज

इजरायल के चार लाख युवा उतरे युद्ध के मैदान ,नेतन्याहू  का बेटा कर रहा अमेरिका की सैर !

हमास के खिलाफ चार लाख युवा जान देने को तैयार लेकिन नेतन्याहू के बेटे घूम रहे अमेरिका 

- Sponsored -

अखिलेश अखिल

- Sponsored -

क्या आपने कभी सुना है जो दंगा करता है और करवाता है उसके घर के कोई लोग मारे जाते हो या फिर घायल होते हों। आपने यह भी नहीं सुना होगा कि कट्टरता भरी  और आतंकी राजनीति करने वाले किसी नेता का भाई, भतीजा और बेटा भीड़  ,दंगा और आतंक का शिकार हुआ हो ! सच यही है कि राजनीति और कूटनीति में यह सब नहीं चलता। आप यह भी जानते हैं कि राजनीति में पोलिटिकल मर्डर भी किया और करवाया जाता है। लेकिन नेता जी यह काम खुद नहीं करते। भाड़े के लोग रखे जाते हैं। भाड़े के लोगों द्वारा ही दंगे करवाए जाते हैं। किसी की हत्या करवा दी जाती है तो किसी के घर जलवा दिए जाते हैं। पहल चाहे किसी भी तरफ से हो वे किराए के लोग होते हैं। किराये के रूप में उन्हें पैसे भी मिलते जहां या जब तक नेता जी की पावर होती है तब तक वह समाज को भयभीत करता है ,उगाही करता है और खुद भी कमाता है और नेता जी को कमा कर देता है।

- Sponsored -

हमास के खिलाफ उतरे  इजरायल के चार लाख युवा

                    अभी ये बाते इसलिए कही जा रही है क्योंकि हमास और इजरायल के युद्ध के बीच बड़ी खबर आ रही है कि इजरायल के चार लाख से ज्यादा युवा अपने देश और अपनी अस्मिता को बचाने के लिए युधा के मैदान में उतर चुके हैं। इन युवाओं को हमास से परेशानी है। हमास इनके रडार पर है और ये युवा हमास को जमींदोज करने को तैयार हैं। इन युवाओं के हौसले का अंत कहाँ और कैसे होगा यह देखने की बात है। लेकिन इस बीच यह भी खबर वायरल हो रही है कि बेंजामिन नेतन्याहू के बेटे इन युवाओं की टोली में शामिल नहीं है। नेतन्याहू की तीसरी पत्नी के बेटे हैं याइर नेतन्याहू। इनकी माता का नाम सारा है। ये 32 वर्ष के युवा बताये जाते हैं और पोस्कास्टर हैं। ये हमेशा मुस्लिम विरोधी पोस्ट करते रहे हैं और हमेशा सुर्खियां भी बटोरते हैं।

 नेतन्याहू का बेटा याइर अमेरिका में घूम रहा

                       लेकिन जब इजरायल के चार लाख युवा अपने देश और अपनी रक्षा के लिए हमास के खिलाफ मैदान में उतर रहे हैं तब बेंजामिन के बेटे की तलाश की जा रही है। लोग उन्हें इसलिए खोज रहे हैं क्योंकि वे भी युवा है और हमेशा मुस्लिम के खिलाफ बाते करते हैं और राष्ट्रवाद पर भाषण देते हैं। जानकारी मिली है कि जब इजरायल के चार लाख युवा अपनी जान को क़ुर्बान करने को तैयार है तब नेतन्याहू का यह बेटा अमेरिका में समंदर के किनारे फहूम रहा है और मौज मस्ती करता दिख रहा है। हालांकि अभी तक उसके बारे में कोई सटीक जानकारी नहीं मिली है लेकिन कई जानकारों का कहना है कि याइर फ्लोरिडा में देखा गया है और इस भीषण युद्ध से दूर है।

दंगे में नेताओं के बेटे नहीं शामिल होते

       नेताओं की यही कहानी बड़ी रोचक होती है। नेता लोग युद्ध को भड़काते हैं लेकिन युद्ध में अपने लोगों को झोंकते नहीं। युद्ध के जरिये भी लाभ कमाते हैं। ये लाभ व्यावसायिक हो या फिर भौतिक। इसके लाभ नेतागिरी में भी लिए जाते हैं और मुद्रा में भी। भारत के सन्दर्भ में भी देखे तो हर साल दंगे में बहुत से लोगों की जाने जाती है लेकिन किसी भी नेता की जान नहीं जाते। कोई भी नेता दंगा का शिकार नहीं होता। शायद बेंजामिन नेतन्याहू भी यही कर रहे हैं और शायद हमास के आतंकी भी यही कर रहे होंगे।
Looks like you have blocked notifications!

- Sponsored -

- Sponsored -

Comments are closed.

Breaking News: