Live 7 TV
सनसनी नहीं, सटीक खबर

मत्स्य पदाधिकारी से मछली पालक त्रस्त , किसान ब्रिगेड ने डीसी को सौंपा ज्ञापन

- Sponsored -

मेदिनीनगर: मत्स्य जिला पदाधिकारी के भ्रष्ट रवैए से पलामू के सभी मत्स्य जीवी समितियां त्रस्त हो गई है। एक तरफ केंद्र सरकार आत्मनिर्भरता को बढ़ावा देने के लिए बहुत सारी योजनाएं लाकर ग्रामीणों को प्रोत्साहन दे रही है वहीं दूसरी तरफ सुचारू रूप से चल रही मत्स्य पालन उद्योग को जान बूझकर घुस का पैसा ऐंठने के लिए जिला मत्स्य पदाधिकारी बीरेंद्र बिन्हा द्वारा जटिल बनाया जा रहा है।

इसका ज्वलंत उदाहरण है कि टेंटर जलासय मनातू में दूसरे समिति के निबंधन करने में जिला मत्स्य पदाधिकारी ने कहा कि जब पहले से प्रखंड स्तरीय समिति कार्य कर रही है तो दूसरा समिति नही बनेगा और दूसरी तरफ पिपरा अजानिया के सिरानिया जलासय में विगत छे वर्षों से मछली पालन कर रहे अजनिया मतस्य जीवी सहयोग समिति के निबंधन नवीनीकरण के लिए चार लाख घुस नही देने पर दूसरे समिति का निबंधन में मानक को दरकिनार कर दिया जाता है। उक्त बातें किसान ब्रिगेड के अध्यक्ष कर्नल संजय सिंह ने समिति के सभी लोगो के साथ उपायुक्त को ज्ञापन सौंपने के बाद कही।

उन्होंने कहा कि भ्रष्टाचार का ये आलम है कि मत्स्य पदाधिकारी जलासय निबंधन नवीनीकरण के लिए स्वयं की लिखावट में एक बैंक अकाउंट नंबर और चार लाख की राशि लिख कर समिति के सचिव बैजनाथ यादव को जमा करने को बोला गया। ब्रिगेड के मत्स्य जीवी प्रभारी विनय सिंह ने कहा कि बिन्हा के विरुद्ध बहुत सारे अनियमितता का आरोप गठित है जिसकी जांच चल रही है उन्हे अतिशीघ्र निलंबित होना चाहिए। हालांकि उपायुक्त ने निष्पक्ष जांच के लिए एक मजिस्ट्रेट नियुक्त कर दिया है अगर फिर भी न्याय नहीं मिला तो हम सभी भ्रष्टाचार के विरुद्ध आंदोलन को बाध्य होंगे। ज्ञापन देने में बैजनाथ यादव,सुनील यादव,भोला सिंह ,विनय सिंह ,रमेश पाण्डेय सहित बहुत से किसान उपस्थित थे।

Looks like you have blocked notifications!

- Sponsored -

Leave a Reply