Live 7 TV
सनसनी नहीं, सटीक खबर

अवैध पत्थर उत्खनन के खिलाफ डीटीएफ टीम ने कालीदासपुर में मारा छापा

- Sponsored -

जान बचाकर भागे पत्थर माफिया, दो कम्प्रेशर मशीन किया जप्त
रामप्रसाद सिन्हा
पाकुड़: हाल में ही डीसी वरूण रंजन की अध्यक्षता में जिला खनन टास्क फोर्स की हुई बैठक में पत्थरों के अवैध उत्खनन और परिवहन के मामले पर रोक लगाने को लेकर दिये गये निर्देश का असर दिखने लगा है। बुधवार को जिला खनन टास्क फोर्स की टीम ने सदर प्रखंड के कालीदासपुर मौजा में पत्थरों के अवैध उत्खनन पर रोक लगाने को लेकर जबरदस्त कार्रवाई की। डीटीएफ के संयोजक सह एसडीओ पंकज कुमार साव के नेतृत्व में कालीदासपुर मौजा में छापेमारी की गयी।

- Sponsored -

- Sponsored -

छापेमारी के दौरान बंद पड़े पत्थर खदान में पत्थरो का उत्खनन किये जाने में शामिल दो ट्रैक्टर सहित कम्प्रेशर मशीन को जप्त किया गया। डीटीएफ टीम के पत्थर खदान तक पहुंचने के पहले अवैध तरीके से पत्थरो का उत्खनन कर रहे माफिया जान बचाकर भागे। जिला टास्क फोर्स की टीम ने पत्थरो के अवैध उत्खनन को लेकर जानकीनगर के मो. अरसद शेख एवं रहसपुर के जमीरूल हक के खिलाफ मुफसिल थाने में एफआइआर दर्ज कराया है।
जिला खनन पदाधिकारी प्रदीप कुमार साह के लिखित बयान पर झारखंड लघु खनिज समनुदान नियमावली 2004 के नियम 4 एवं खान एवं खनिज 1957 की धारा 4 के तहत मो. अरसद शेख एवं जमीरूल हक को अभियुक्त बनाया गया है। डीटीएफ के संयोजक सह एसडीओ ने बताया कि पत्थरो के अवैध उत्खनन और परिवहन के खिलाफ लगातार छापेमारी अभियान चलाया जायेगा। उन्होने कहा कि पत्थरो का अवैध उत्खनन और परिवहन कर सरकार को राजस्व का नुकसान पहुंचाने वाले लोगो को चिन्हित करने का भी काम किया जा रहा है।
यहां उल्लेखनीय है कि हाल में ही डीसी वरूण रंजन ने खनन टास्क फोर्स की बैठक की थी। बैठक में मौजूद डीटीएफ टीम में शामिल अधिकारियो को बंद पड़े खदानो की जांच करने एवं अवैध तरीके से उत्खनन और परिवहन करने वाले लोगो के खिलाफ कार्रवाई करने का निर्देश दिया था। बुधवार को की गयी कार्रवाई डीसी के हालिया निर्देश का नतिजा माना जा रहा है। जिले में अवैध तरीके से पत्त्थरो का उत्खनन और परिवहन के मामले को दैनिक सन्मार्ग लगातार प्रमुखता से प्रकाशित कर रहा है ताकि वैद्य तरीके से पत्थरों का कारोबार करने वाले लोग सरकार को राजस्व भी दे सके और अपना कारोबार चला सके।
Looks like you have blocked notifications!

- Sponsored -

- Sponsored -

Comments are closed.